Breaking News

भारत बंद अभियान के दौरान हुई हिंसा पर मायावती ने जताया अफ़सोस

दलित संगठनों द्वारा आयोजित भारत बंद अभियान के दौरान हुई हिंसा की बसपा सुप्रीमो मायावती ने कड़ी निंदा की है। उन्होंने कहा कि दलित और पिछड़े समाज के लोगों के बीच कुछ जातिवादी और असमाजिक तत्वों ने घुसकर हिंसक घटनाओं को अंजाम दिया है।

ये भी पढ़े – ST-SC दलितों में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर नाराज़गी, भड़की हिंसा

उन्होंने पुलिस प्रशासन से ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। साथ ही उन्होंने कहा कि इन लोगों की आड़ में दलित और पिछड़े लोगो को निशाना न बनाया जाए। यदि ऐसा होता है तो बसपा चुप नहीं बैठेगी।

बताते चलें कि एससी-एसटी एक्ट में बदलाव पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पूरे देश में दलित संगठनों ने भारत बंद का आयोजन किया था। इस दौरान कुछ एक राज्यों में पुलिस और आंदोलनकारियों के बीच हिंसक झड़पें भी हुई हैं, जिनमें जानमाल का नुकसान हुआ है।

बसपा सुप्रीमो ने पीएम मोदी पर पिछड़ा और दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनपर जो यह धब्बा लगा है। वह उनकी कथनी और करनी में फर्क का परिणाम है। बाबा साहेब के अथक प्रयासों से जो अधिकार पिछड़े और दलित वर्ग को मिले हैं, बीजेपी उन्हें छीनना चाहती है।  सरकार की इन नीतियों के चलते दलितों और आदिवासियों में गुस्सा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*