राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप -आतंक का साथ देने वाले अमेरिका के दोस्त नहीं हो सकते

अमेरिका ने आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले पाकिस्तान पर एकबार फिर हमला बोला हैं. व्हाइट हाउस ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना एक बार फिर उसे खरी-खोटी सुनाई है और कहा कि आतंकवाद का समर्थन करके कोई देश, अमेरिका का दोस्त नहीं हो सकता.बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सुरक्षा सहायता पर पिछले महीने रोक लगाई थी.

व्हाइट हाउस ने जानकारी देते हुए कहा कि अमेरिका से सहायता पाने वाले देश आतंकवाद को समर्थन देकर या उसे अनदेखा करके अमेरिका के दोस्त नहीं हो सकते. अमेरिका की ओर से ऐसे संदेश का लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था

 

 

मंगलवार को ट्रंप के पहले स्टेट ऑफ दी यूनियन संबोधन के बाद व्हाइट हाउस ने फैक्ट शीट में कहा, ‘राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को सुरक्षा सहायता रोक दी और इस तरह सहायता पाने वालों को संदेश दिया कि हम उनसे यह उम्मीद करते हैं कि वह आतंकवाद से लड़ाई में पूरी तरह हमारे साथ होंगे.’पाकिस्तान ने आतंकवाद को समर्थन देने के आरोपों से इनकार किया है. व्हाइट हाउस के मुताबिक ट्रंप अमेरिका की सुरक्षा को जो खतरे हैं, उन पर लगातार ध्यान देंगे और कट्टरपंथी इस्लामिक आतंक और इसकी विचारधारा से मुकाबला करने और उसे हराने के प्रयासों को प्राथमिकता देंगे.

Check Also

अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में सोमवार को कच्चा तेल पहुंचा 3 महीने के निचले स्तर

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोमवार को कच्चा तेल 3 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गया …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com