न पुलिस का डर न वर्दी का सम्मान, थाना रणभूमि में हुआ तब्‍दील

 

चंडीगढ़। पुलिस स्टेशन मामला सुलझाने व अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए होते है लेकिन कभी-कभी वही जगह रणभूमि बन जाती हैं। इसका ताजा मामला लुधियाना के एक थाने में देखने को मिला हैं। मारपीट के मामले में दो पक्ष थाने पहुंचे और एक-दूसरे को देखते ही दोनों का खून खौल उठा मानो एक दूसरे की जान लेकर ही मानेंगे। थाने में मौजूद पुलिस का न डर था और न ही वर्दी के लिए सम्मान।

 

थाने में ही पुलिस के पहले जमकर हाथापाई हुई फिर इसके बाद जब इतने में मन नहीं भरा तो जमकर गाली-गलौच हुई। जब पुलिस को लगा की अब बात बनने से रही तो पुलिस ने युवक को किसी तरह से काबू किया। थाने को रणभूमी में तब्‍दील होने से पहली ही ये लोग लुधियाना के रेखी सिनेमा रोड पर पटकथा लिख चुके थे।

 

जानकारी के मुताबिक ये लड़ाई तब शुरू हुई जब एक्टिवा सवार युवक ने ढाबे में काम करने वाले युवक को टक्कर मारी। टक्कर लगते ही ढाबे में काम करने वाले युवाओं ने एक्टिवा सवार जमकर पीटा। इस बवाल के बाद दोनों पक्ष थाने पहुंचे। लेकिन सबसे बड़ी बात तो ये है कि थाने पहुंचते ही दोनों पक्ष पुलिस के सामने ही आपस में भिड़ने लगे। हाथापाई के साथ एक-दूसरे पर अभद्र टिप्पणियां थाने में बवाल काटा।

यह भी पढ़ें :- लखनऊ : जिला न्यायालय में बार एसोसिएशन के संयुक्त मंत्री पर बम से हमला

 

लुधियाना के थाने में छिड़ी महाभारत के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों पर कार्रवाई करने की बात कही है। वैसे तो आपको बता दे कि इस घटना की बात सामने आने के बाद तो एक बात साफ हो गई है कि लोगों में न तो पुलिस का डर है और न ही खाकी का सम्मान। अगर उनमे यह होता तो थाने में पुलिस की मौजूदगी में ये सब ना होता।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

सहारा अस्पताल पर महिलाओं के शव बदलने के मामले पर FIR दर्ज

  लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीते 11 फरवरी को गोमतीनगर स्थित सहारा …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com