निर्भया केस के दोषी

अब रवि काजी लड़ेंगे निर्भया के दोषी पवन का केस

नई दिल्‍ली। देश के राजधानी के बहुचर्चित निर्भया मामले में दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत ने दोषियों को फांसी देने के लिए नया डेथ वारंट जारी करने की अर्जी पर सुनवाई सोमवार दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। दिल्ली सरकार और निर्भया के माता-पिता की अर्जी पर की जा रही सुनवाई में कोर्ट ने एक दोषी पवन गुप्ता के लिए एक वकील रवि काजी को नियुक्त कर दिया।

अदालत ने यह भी कहा कि कानूनी सहायता महज दिखावे के लिए नहीं हो सकती। चारों दोषियों में से सिर्फ पवन के पास ही सुधारात्मक और दया याचिका का विकल्प है। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा ने कहा, मैं समझता हूं कि पवन के कानूनी वकील को भी थोड़ा समय मिलना चाहिए ताकि वह मुवक्किल का प्रभावी प्रतिनिधित्व कर सकें ताकि दोषी को कानूनी सहायता महज दिखावा या सतही कार्रवाई जैसी नहीं लगे।

पटियाला हाउस कोर्ट ने पवन को वकील देने का यह फैसला तब किया, जब उसने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से कानूनी सहायता देने का प्रस्ताव ठुकरा दिया था। जज ने कहा कि संविधान का अनुच्छेद 21, दोषियों का आखिरी सांस तक जीवन और स्वतंत्रता का संरक्षण करता है। मेरे विचार में यह मामला कानूनी अधिकार दोषी के कानूनी विकल्पों के खत्म होने के अधिकार से जुड़ा है और कोर्ट दोषी के मौलिक अधिकारों को नजरअंदाज नहीं कर सकता है।

आज केंद्र की अर्जी और विनय की याचिका पर सुनवाई

वहीं, सुप्रीम कोर्ट में दोषियों को अलग-अलग फांसी देने की मांग की केंद्र की याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई होगी। साथ ही एक दोषी विनय शर्मा की दया याचिका के खिलाफ याचिका पर शीर्ष अदालत फैसला सुनाएगा। जबकि एक और दोषी पवन के लिए कोर्ट ने वरिष्ठ वकील अंजना प्रकाश को न्याय मित्र बनाया है।

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

जामिया हिंसा में घायल छात्र ने मांगा 2 करोड़ का मुआवजा, याचिका दायर

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर पिछले साल 15 दिसंबर को जामिया मिल्लिया …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com