समाजवादी पार्टी
अपराधी शशांक शर्मा साथ में अपराधी अतीक अहमद

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्त्ता द्वारा पत्रकार पर गोली चलाये जाने के मामले पर पुलिस नहीं कर रही कोई कार्यवाही  

 

सीतापुर –  पत्रकारों पर नहीं थम रहा हमला, गुंडों की पार्टी कही जाने वाली समाजवादी पार्टी भले ही आज सत्ता में नहीं है मगर समाजवादी गुंडे आज भी लगाम से बाहर है लखीमपुर निवासी समाजवादी कार्यकर्त्ता शशांक शर्मा ने हत्या का रचा षड़यंत्र |

सारे साक्ष्य मिलने पर भी नहीं हुई कार्यवाही,अपराधी शशांक और अतीक अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

 

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता शशांक शर्मा, आढती अतीक अहमद व सलमान जिन्होंने बीती 23 अप्रैल 2018 पत्रकार पियूष मणि अवस्थी पर खैराबाद मछरेता चुंगी के पास जान लेवा हमला किया था पीड़ित ने अपराधियों के खिलाफ खैराबाद थाने मुकदमा पंजीकृत करवाया था जिसकी जांच खैराबाद कश्बा चौकी इंचार्ज विनोद शर्मा कर रहे है पीड़ित को विनोद शर्मा ने थाने में बुलाकर मामले की जानकारी  कर ली व मौके पर जाकर जांच भी की लेकिन पुलिस अपने रवैये से बाज नहीं आ रही शशांक शर्मा व अतीक अहमद खुले आम टहल रहे है |

 

ये भी पढ़े – समाजवादी पार्टी कार्यकर्त्ता शशांक शर्मा ने पत्रकार पर कराया जानलेवा हमला

 

पीड़ित को जेल से मोबाईल नम्बर 9653083699 से दिनांक 25/04/2018  को धमकी भरा फोन भी आ चूका है जिसमे शशांक शर्मा को कैसे भी बाहर करने की बात कही गई है शशांक शर्मा समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता का है. इतना ही नहीं आढती अतीक अहमद के परिवार जनों ने पीड़ित पत्रकार के दफ्तर में आकर समझौता करने का दबाव भी बनाया |

 

ये भी पढ़े – बाहुबली सपा नेता अमरमणि त्रिपाठी के बेटे के खिलाफ़ सुप्रीम कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित…

 

बीती रात 23/04/2018 को तक़रीबन 8 बजे पीड़ित लखनऊ के लिए निकले थे सीतापुर पहुँच कर बस स्टेशन के पास चाय पी रहे थे तभी शशांक शर्मा अपने कुछ गुर्गो के साथ आया और पीड़ित गाड़ी से नीचे आने को कहा मगर मौके की स्थिति को देखते हुए वो गाड़ी से नीचे नहीं आये शशांक शर्मा ने पूरी प्लानिंग के साथ मौके पे मौजूद अपने गुर्गो को इशारा करते हुए वहा से जाने को कहा और वह भी चला गया| इसी बीच पीड़ित अपने साथी राहुल के साथ लखनऊ के लिए रवाना हो गए सीतापुर से निकलते ही कुछ दूरी के बाद खैराबाद से आगे ही दो मोटर साईकिल सवार लोगो ने पीछा करना शुरू कर दिया गाड़ी पर फायर कर दिया मगर पीड़ित ने अचानक गाड़ी में ब्रेक लगा दी जिससे वह बच गए

 

ये भी पढ़े – नहीं थम रही है पत्रकार की हत्याएं.. पंजाब के केजे सिंह उनकी मां की हुई हत्या..

 

और तब तक टोल टेक्स आ गया और हमलावर भाग निकले गाड़ी की रफ़्तार ज्यादा होने से टोल टेक्स का बेरियर भी टूट गया| और वहां मौजूद लोगो ने थाने जाने को कहा किसी तरह पीड़ित ने अपनी जान बचा कर सिधौली थाने पहुचकर अपनी आप बीती सुनाई जिस पर थाना प्रभारी ने घटना को खैराबाद में होने की बात कही और अपनी गाड़ी से पीड़ित के साथ घटना स्थल पर गए और खैराबाद पुलिस भी आ गई पुलिस ने शशांक शर्मा, अतीक अहमद व सलमान तीन लोगो के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया था

 

 

क्या है पूरा मामला

 

करीब तीन माह पहले पीड़ित की लखीमपुर निवासी अतीक अहमद से मुलाकात हुई और अतीक अहमद ने साथ में आलू का व्यपार करने की बात कही जिस पर पीड़ित मना कर दिया और यह कहा की में याह व्यपार नहीं कर सकता जिस पर अतीक अहमद ने पैसा लगाने की बात कही जिस के बाद पीड़ित  ने अपनी सहमती दी और अतीक ने अपना व्यपार शुरू कर दिया |

 

नहीं आ रहा है बाज़ अपनी हरकतों से बाज़ लगातार मिल रही है धमकिया

 

जब पीड़ित ने अपना पैसा माँगा तब अतीक अहमद ने आज कल पे बात को टालना शुरू कर दिया जिस पर पीड़ित ने पुलिस से शिकायत करने को कहा लेकिन अतीक अहमद के मित्र समाजवादी कार्यकर्त्ता शशांक शर्मा ने पियूष को पिस्टल से धमकाते हुए पैसे न देने की बात कही और जान से मारने“की बात कही जिसकी जानकारी पियूष ने शशांक शर्मा के पिता संतोष शर्मा को दी. जिसके बाद शशांक के पिता ने तो उसे समझाने का आश्वाशन दिया और माफ़ी भी मांगी पर शशांक अभी भी पछतावे से बाहर है, और अपनी बदमाशियों से बाज़ नहीं आ रहा है |

 

 

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

होटल के कमरे में मिला आईबी ड्राइवर का शव 

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी के गोलबाजार थाना इलाके के एक होटल में आईबी के ड्राइवर …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com