केजीएमयू में खाली था वेंटिलेटर फिर भी पद्मश्री कृष्ण राम चौधरी को नहीं मिला…

लखनऊ। मशहूर शहनाई वादक व पद्मश्री से अलंकृत कृष्ण राम चौधरी (74) को केजीएमयू में खाली होने के बावजूद वेंटिलेटर नहीं दिया गया। डॉक्टरों ने उन्हें रेस्पिरेटरी इन्टेंसिव केयर यूनिट (आरआइसीयू) में दो वेंटीलेटर खाली होने के बावजूद मना कर दिया। इसका खुलासा केजीएमयू प्रशासन की जांच में हुआ है। आंतों के सिकुडऩे पर कृष्ण राम का मंगलवार को ऑपरेशन किया गया था।

केजीएमयू के आरएसओ वार्ड में वेंटिलेटर न मिलने पर परिवारीजन 24 घंटे तक एंबु बैग से उन्हें ऑक्सीजन देते रहे। गृह मंत्रालय से शिकायत के बाद बीते बुधवार देर शाम उन्हें वेंटिलेटर मिल पाया। उधर, मामला गृहमंत्रालय पहुंचने से हरकत में आए केजीएमयू प्रशासन ने रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष से मामले की जांच करवाई। जांच रिपोर्ट के अनुसार, उस वक्त दो वेंटिलेटर खाली थे, पर कृष्णराम को नहीं दिए गए। इस बाबत केजीएमयू के मीडिया इंचार्ज प्रो. संतोष कुमार का कहना है कि जांच रिपोर्ट के आधार पर आरोपी डॉक्टर पर कार्रवाई की जाएगी।

…वेंटिलेटर न देने से चमक रहा प्राइवेट अस्पतालों का धंधा

ट्रॉमा सेंटर में वेंटिलेटर होने के बावजूद आम मरीजों को नहीं मिल पा रहा है। इससे से प्राइवेट अस्पतालों का धंधा चमक रहा है। दरअसल, यहां वेंटिलेटर न मिलने से तीमारदार मरीज को लेकर प्राइवेट अस्पतालों में भागते हैं। वहां इलाज में काफी पैसे खर्च हो जाते हैं। जिसका सीधा फायदा निजी अस्पतालों को मिलता है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

राजधानी में पानी का संकट

एक तो भयंकर गर्मी ऊपर से पानी की किल्लत… राजधानी का एक बड़ा हिस्सा पानी …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com