Breaking News

पकिस्तान कभी नहीं सुधर सकता , हाफिज सईद पर एक्शन बस दिखावा, ये है हिडेन एजेंडा

पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ आतंकी कार्रवाई करने से बाज नहीं आ रहा है. हालांकि, अमेरिका और भारत के दबाव में आकर उसने हाल ही में मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज़ सईद के खिलाफ सख्त रुख अपनाया था.  पाकिस्तान ने हाफिज़ के संगठन जमात-उद-दावा पर प्रतिबंध लगाया है. लेकिन इसके पीछे भी पाकिस्तान का एक एजेंडा छुपा है, जिसके जरिए वह भारत और अमेरिका की आंखों में धूल झोंकने की कोशिश कर रहा है.

आगे भी पढ़े – राहुल गाँधी फिर से बीजेपी के निशाने पर, खनन आरोपी विधायक से 62 लाख की प्रतिमा लेने का आरोप

क्या है पाकिस्तान का हिडन एजेंडा?

दरअसल, जल्द ही पेरिस में आतंकवाद को आर्थिक मदद के मुद्दे पर बहुत बड़ी बैठक होने वाली है. भारत और अमेरिका की कोशिश है कि इस बैठक में पाकिस्तान को घेरा जाए. दोनों देशों की कोशिश है कि एफएटीएफ की सूची में पाकिस्तान का नाम शामिल हो जाए. और दुनिया के सामने यह सच आए कि पाकिस्तान आतंकवाद का खुलेआम समर्थन करता है और आतंकवादियों को फंडिंग भी करता है.

टास्क फोर्स की बैठक से पहले की कार्रवाई   

अमेरिका भी फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की सालाना बैठक के जरिए भी पाकिस्तान पर शिकंजा कस सकता है. ये बैठक 18 से 23 फरवरी को होगी. यही कारण है कि पाकिस्तान आतंकियों के खिलाफ इस प्रकार की कार्रवाई कर रहा है.

आपको बता दें कि इससे पहले भी पाकिस्तान को 2012 में एफएटीएफ की सूची में डाला गया था. उस दौरान पाकिस्तान करीब 3 साल तक इस लिस्ट में रहा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*