Breaking News

आतंकवादी नावीद ने कहा था, लोगों को मारने में मजा आता है

श्रीनगर के एक अस्पताल में मंगलवार को आतंकवादियों ने हमला कर दिया और एक पाकिस्तानी आतंकवादी को छुड़ाकर फरार हो गए. इस हमले में एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया. पुलिस सूत्रों ने कहा कि आतंकियों ने श्रीनगर के एसएमएचएस अस्पताल के पास एक पुलिस दल पर उस समय हमला कर दिया, जब वे एक आतंकवादी को इलाज के लिए ले जा रहे थे.

 

सूत्र ने कहा, “आतंकवादी को श्रीनगर सेंट्रल जेल से इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था, तभी आतंकवादियों ने नावेद उर्फ हमाजुल्ला के साथ उसकी पहरेदारी के लिए मौजूद पुलिसकर्मी पर हमला कर दिया, जिसे 2017 में शोपियां जिले से गिरफ्तार किया गया था.” सूत्र ने कहा, “आतंकवादी हमले के दौरान आतंकवादी को छुड़ाकर साथ ले जाने में कामयाब रहे. इस हमले में घायल एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया, जबकि एक अन्य अस्पताल में दाखिल है.” आइए जानें यह आतंकी कौन है जिसे अस्पताल से उसके साथियों ने छुड़ाया है.

 

1. श्रीनगर के महाराज हरि सिंह अस्पताल से छुड़ाए गए आतंकी का नाम नावीद है. साल 2014 के 5 अगस्त को इसे स्थानीय लोगों की मदद से सेना ने उधमपुर से इसे पकड़ा था.

2.आमिर अजमल कसाब के बाद नावीद दूसरा ऐसा पाकिस्तानी आतंकवादी है जिसे जिंदा पकड़ा गया है.

3. पूछताछ में नावीद ने कबूला था कि वह पाकिस्तान के फ़ैसलाबाद इलाके के ग़ुलाम मुहम्मदाबाद का रहने वाला है और उसके दो भाई और एक बहन हैं. इनमें से एक लेक्चरर है और एक बिजनेसमैन है और वो आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य है.
4. कसाब की ही तरह लश्कर ने नावीद को भी कड़ी ट्रेनिंग दी थी और उसे भारत में बड़े वारदात को अंजाम देने के लिए भेजा था, हालांकि गांवा वालों ने इसक हाथ से बंदूक छीनकर इसे सेना को सौंपा था.

5. पकड़े जाने के बाद मोहम्मद नावीद ने कहा था ‘गोलियां चलाकर लोगों को मारने में मजा आता है.’ आतंकवादी हमले में बीएसएफ के दो कांस्टेबल मारे गए.

6. पूछताछ में नावीद ने कहा था, ‘मैं हिंदुओं को मारने आया था.’ उसने कहा, ‘मुझे यहां आये 12 दिन हो गए हैं. इतने दिन हम जंगल में घूमते रहे.’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*