Breaking News
narendra modi
narendra modi

पीएम ने जनता से पूछा क्या एक ही परिवार ने दिलाई है आज़ादी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के धंधुका के बाद नेतरंग में भी कांग्रेस को आड़े हाथ लिया है। नेतरंग में रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस को लगता है कि केवल एक परिवार की वजह से भारत को आजादी मिली। वे भारत की आजादी के संघर्ष में आदिवासियों के योगदान को भूल चुके हैं। अयोध्या मामले का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि सुन्नी वक्फ बोर्ड को साहसिक रुख दिखाने और कपिल सिब्बल जी के बयान से खुद को अलग करने के लिए बधाई देनी चाहिए।

पीएम ने कांग्रेस पर किया था हमला

इससे पहले पीएम गुजरात के धंधुका में कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि एक परिवार ने डॉक्‍टर बाबासाहेब अंबेडकर और सरदार पटेल के साथ सबसे बड़ा अन्याय किया। जब कांग्रेस पर पंडित नेहरु का प्रभाव पूर्ण हो गया, तब कांग्रेस ने सुनिश्चित किया कि डॉ अम्बेडकर को संविधान सभा में शामिल होना कठिन हो जाए।

ये भी पढ़े ~जूलरी डिजाइनर फराह खान अली ने भाजपा ने वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी पर मारा ताना

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद और अन्‍य मंत्रियों के साथ बी आर अंबेडकर को महापरिनिर्वाण दिवस पर श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्‍होंने ट्वीट किया, ‘मैं डॉक्टर बाबासाहेब अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर उन्हें नमन करता हूं।’ दलितों के उत्थान के लिए लगातार काम करने वाले बाबासाहेब अंबेडकर का 1956 में आज ही के दिन निधन हो गया था।

धंधुका में पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने गुजरातियों को कई समस्‍याओं से निजात दिलाई है। उन्‍होंने कहा, ‘भाजपा ने गुजरात में टैंकर राज का अंत किया। गुजरात में टैंकर का धंधा कांग्रेस नेताओं और उनके परिजनों द्वारा चलाया जा रहा था। लेकिन भाजपा के सत्‍ता में आने के बाद टैंकर राज खत्‍म हो गया।’

कांग्रेस नही देती थी महिला सुरक्षा पर ध्यान

उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस के समय गुजरात में महिलाओं की शिक्षा पर कोई खास जोर नहीं दिया जाता था। हमने शिक्षा के क्षेत्र में काफी काम किया। मैंने गुजरात के लोगों से लड़कियों की पढ़ाई के लिए भीख मांगी। लोगों से हाथ जोड़कर कहा कि बेटियों को भी पढ़ने का मौका दो। ‘बे‍टी बचाओ, बेट पढ़ाओ’ अभियान शुरू किया।

ये भी पढ़े ~दलित के साथ विवाह पर मिलेंगे 2.5 लाख रुपए…

पीएम मोदी ने कहा कि हमने मुस्लिम बहनों को तीन तलाक से छुटकारा दिलाने के लिए एफिडेविट फाइल किया और सुप्रीम कोर्ट ने 6 महीने में इस पर रोक लगा दी। जल्‍द ही अब इस पर हम नया कानून बनाने जा रहे हैं, जिसके बाद मुस्लिम महिलाओं की जिंदगी में काफी सुधार होगा। पीएम ने कहा कि जब तीन तलाक का मुद्दा कोर्ट में था तो केंद्र को अदालत में अपना एफिडेविट देना था। उस समय अखबारों ने लिखा था कि यूपी चुनाव के चलते मोदी सरकार चुप रहेगी, लोगों ने भी मुझे राय दी कि मैं चुप रहूं नहीं तो हार जाएंगे। लेकिन मैंने साफ कर दिया कि मैं तीन तलाक पर चुप नहीं रहूंगा। मेरे लिए चुनाव से जरूरी देश और मानव अधिकार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*