विपक्ष ने योगी सरकार को घेरा

Vikas Dubey Encounter: विकास दुबे ढेर, प्रियंका से लेकर मायावती तक ने उठाए सवाल

लखनऊ। कानपुर एनकाउंटर के मुख्‍य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे को पुलिस ने शुक्रवार सुबह मुठभेड़ में ढेर कर दिया है। गुरुवार (9 जुलाई) को मध्यप्रदेश स्थित उज्जैन के महाकाल शिवमंदिर परिसर से उसे पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद उसे यूपी एसटीएफ की टीम को सौंपा गया, जो उसे कानपुर लेकर आ रही थी। पुलिस के बयान के मुताबिक, रास्ते में गाड़ी पलट गई और विकास दुबे ने भागने की कोशिश की तो पुलिस की गोलियों का शिकार हो गया। अब इसे लेकर राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव, प्रियंका गांधी, मायावती, जयंत चौधरी और दिग्विजय सिंह ने इस एनकाउंटर पर सवाल उठाए हैं।

यह भी पढ़ें: कानपुर एनकाउंटर का बदला! UP एसटीएफ ने गैंगस्टर विकास दुबे को किया ढेर

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने विकास दुबे के मुठभेड़ में मारे जाने पर कहा, ‘दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है।’

प्रियंका गांधी ने पूछा- अपराध को संरक्षण देने वालों का क्या?

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘अपराधी का अंत हो गया, अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या?’

सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में होनी चाहिए निष्पक्ष जांच

बसपा प्रमुख मायावती ने लिखा, ‘कानपुर पुलिस हत्याकांड की तथा साथ ही इसके मुख्य आरोपी दुर्दान्त विकास दुबे को मध्यप्रदेश से कानपुर लाते समय आज पुलिस की गाड़ी के पलटने व उसके भागने पर यूपी पुलिस द्वारा उसे मार गिराए जाने आदि के समस्त मामलों की माननीय सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जाँच होनी चाहिए।’

कानून ने किया अपना काम: नरोत्तम मिश्रा

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने विकास दुबे के मुठभेड़ में मारे जाने पर कहा, ‘कानून ने अपना काम किया है। यह उन लोगों के लिए खेद और निराशा का विषय हो सकता है, जिन्होंने विकास दुबे की कल गिरफ्तारी और आज मौत पर सवाल उठाए हैं। एमपी पुलिस ने अपना काम किया। उन्होंने उसे गिरफ्तार करके यूपी पुलिस को सौंप दिया।’

भाजपा के ठोक दो राज में अदालत की जरूरत नहीं

राष्ट्रीय लोक दल के नेता जयंत चौधरी ने मुठभेड़ में विकास दुबे की मौत को लेकर लिखा, ‘विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद देश के सारे न्यायधीशों को इस्तीफा दे देना चाहिए। भाजपा के ठोक दो राज में अदालतों की जरूरत ही नहीं है।’

महाकाल मंदिर में ही आत्मसमर्पण क्यों किया?– दिग्विजय सिंह

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘यह पता लगाना आवश्यक है विकास दुबे ने मध्यप्रदेश के उज्जैन महाकाल मंदिर को आत्मसमर्पण के लिए क्यों चुना? मध्यप्रदेश के कौन से प्रभावशाली व्यक्ति के भरोसे वो यहां उत्तर प्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने आया था?’

साथ ही उन्‍होंने लिखा, ‘जिसका शक था वह हो गया। विकास दुबे का किन किन राजनैतिक लोगों से, पुलिस व अन्य शासकीय अधिकारियों से उसका संपर्क था, अब उजागर नहीं हो पाएगा। पिछले 3-4 दिनों में विकास दुबे के 2 अन्य साथियों का भी एनकाउंटर हुआ है लेकिन तीनों एनकाउंटर का पैटर्न एक समान क्यों है?’

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

बेटे के समान बेटियां भी पैतृक संपत्ति में बराबर की हिस्सेदार: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्‍ली। देश की सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने अपने फैसले में बेटियों को पिता की या …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com