पुल का ढहा हिस्सा

बिहार: 29 दिन में ही ढहा 263 करोड़ से बना पुल, CM नीतीश ने किया था उद्घाटन

पटना। बिहार के गोपलगंज जिले में गंडक नदी पर 263 करोड़ की लागत से बना सत्तरघाट पुल ढह गया और नदी में बह गया। नदी का जलस्तर बढ़ने और भारी बारिश के चलते पुल का एक हिस्सा टूट गया। यह पुल महज 29 दिनों के भीतर ही नदी में समा गया। राज्‍य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस पुल का उद्घाटन पिछले महीने ही किया था। वहीं, इस पुल के ध्वस्त होने से चंपारण तिरहुत और सारण के कई जिलों का संपर्क टूट गया है।

यह भी पढ़ें: कैसा बीतेगा 16 जुलाई का दिन, पढ़िए आज का राशिफल

सत्तरघाट मुख्य पुल से करीब एक किलोमीटर पूर्व सड़क के टूट जाने से छपरा, सीवान, गोपालगंज जिलों से मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर, दरभंगा की ओर आने-जाने वाले वाहनों का परिचालन ठप हो गया है। स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि लगातार हो रही बारिश से सड़क दलदली हो गई थी। इस बीच बाढ़ के पानी से सड़क टूट गई है। बताया गया है कि गोपालगंज में तीन लाख से ज्यादा क्यूसेक पानी का बहाव था।

16 जून को हुआ था इस महासेतु का उद्घाटन

गोपालगंज के बैकुंठपुर के फैजुल्लाहपुर में गंडक नदी के इतने बड़े जलस्तर के दबाव के चलते इस पुल का एप्रोच रोड टूट गया, इस कारण वाहनों का परिचालन बाधित हो गया है। इस महासेतु का निर्माण पुल निर्माण विभाग की तरफ से कराया गया था। साल 2012 में पुल निर्माण का कार्य शुरू हुआ और 16 जून, 2020 को इस महासेतु का उद्घाटन किया गया।

वहीं, विपक्ष के नेताओं ने पुल निर्माण में लापरवाही को लेकर जांच की मांग की है। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने पुल के टूटने को लेकर ट्वीट किया, ‘263 करोड़ से 8 साल में बना लेकिन मात्र 29 दिन में ढह गया पुल। संगठित भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह नीतीश जी इस पर एक शब्द भी नहीं बोलेंगे और ना ही साइकिल से रेंज रोवर की सवारी कराने वाले भ्रष्टाचारी सहपाठी पथ निर्माण मंत्री को बर्खास्त करेंगे। बिहार में चारों तरफ लूट ही लूट मची है।’

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

UP: सुदीक्षा की मौत मामले में अलग-अलग बयान, NCW ने डीजीपी को लिखा पत्र  

बुलंदशहर। अमेरिका के बोस्टन यूनिवर्सिटी की छात्रा सुदीक्षा भाटी की सड़क हादसे में मौत के …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com