Breaking News

रविशंकर प्रसाद ने राहुल गाँधी पर साधा निशाना कैंब्रिज एनालिटिका मसले पर

डेटा लीक मसाले पर कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने फिर गुरुवार को राहुलगाँधीपर निशाना साधते हुए कहा अगर फेसबुक डेटा चोरी में अगर कांग्रेस का सम्बन्ध कैंब्रिज एनालिटिका से नहीं है तो फिर क्यों राहुल गाधी इस बात  चुप थे जब ये बोला गया के करवाई होनी चाहिए डेटा लीक मसाले पर कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने फिर गुरुवार को राहुल गाधी पर निशाना साधते हुए कहा अगर फेसबुक डेटा चोरी में अगर कांग्रेस का सम्बन्ध कैंब्रिज एनालिटिका से नहीं है तो फिर क्यों राहुल  इस बात चुप थे जब ये बोला गया के करवाई होनी चाहिए साथ ही साथ रविशंकर  प्रसाद ने ये बोला के ५ महीनें पहले ही काफी मीडिया रिपोर्ट्स में कांग्रेस का नाम जुड़ रहा था कैंब्रिज एनालिटिका

ये भी पढ़े -अब शहीदों के बच्चों की शिक्षा का बेडा उठाएगी सरकार

 

Image result for रविशंकर प्रसाद

 

तब इसे बीजेपी के खिलाफ कांग्रेस का ब्रह्मास्त्र तक बताया गया था लेकिन अब डेटा चोरी की बात सामने आई तो कांग्रेस खुद को कैंब्रिज एनालिटिका से अलग करने की कोशिश कर रही है.’

प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी पहले भी सेना के सर्जिकल स्ट्राइक जैसे मुद्दे पर भी सवाल उठा चुके हैं इसीलिए उनसे ऐसी ही उम्मीद की जा सकती है. प्रसाद ने पलटवार किया कि गुजरात के चुनाव प्रचार में जो कांग्रेस का रुख रहा और जिस तरह के जहरीले बयान वहां पर दिए गए, उससे वहां कैंब्रिज एनालिटिका के हथकंडों की छाप दिखती है.

हालांकि जब प्रसाद से यह पूछा गया कि कंपनी की पेरेंट कंपनी स्ट्रेटेजिक कम्युनिकेशंस लेबोरेट्रीज (SCL)की भारत में पार्टनर ओवलेनो बिजनेस इंटेलीजेंस (OBI) की सेवाएं बीजेपी,  जनता दल यूनाइटेड और कांग्रेस तीनों पार्टियों ने लीं तो उनका जवाब था कि बीजेपी ने इस कंपनी की सेवाएं कभी नहीं ली. प्रसाद ने ये भी कहा कि कैंब्रिज एनालिटिका कंपनी की स्थापना 2013 में हुई.

प्रसाद ने यह भी कहा कि सवाल सिर्फ इस बात का नहीं है कि किस पार्टी ने किस संस्था की मदद ली. असल मुद्दा यह है कि क्या चुनाव प्रचार के लिए उन हथकंडों का इस्तेमाल किया गया जिस का आरोप कैंब्रिज एनालिटिका कंपनी पर लगा है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*