सबरीमाला : 11 महिलाओं के खिलाफ चढ़ाई करने को लेकर विरोध प्रदर्शन

सबरीमाला| केरल के सबरीमाला में मंडला पूजा शुरू होने से कुछ दिन पहले एक बार विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। यह विरोध प्रदर्शन रविवार को 11 महिलाओं के भगवान अय्यपा मंदिर में पूजा-अर्चना के लिए चढ़ाई करने को लेकर शुरू हुआ है।

तमिलनाडु से आईँ ये महिलाएं मंदिर में प्रवेश को लेकर अब तक प्रतिबंधित रहे 10 से 50 आयु वर्ग से आती हैं।

इन महिलाओं ने कहा है कि वे मंदिर में पूजा किए बगैर नहीं लौटेंगी।

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 28 सितंबर को हर आयु वर्ग की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति देने का फैसला किए जाने के बाद से सबरीमाला में हिंदू समूहों द्वारा लगातार विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है।

मंदिर में पहले 10 साल की उम्र से लेकर 50 वर्ष की महिलाओं के प्रवेश करने पर प्रतिबंध था।

सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद खास आयु वर्ग की करीब दो दर्जन महिलाएं पहले ही मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश कर चुकी है और वह मंदिर जाने में विफल रही है।

सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का भगवान अय्यपा के भक्त का विरोध कर रहे हैं।

11 महिलाओं वाला तमिलनाडु का समूह आधार शिविर पर रविवार तड़के 5.30 बजे पहुंचा। समूह अभी पंबा आधार शिविर पर रुका है।

सैकड़ों नाराज प्रदर्शनकारी भी दृढ़ता से अड़े हुए हैं और मंदिर की परंपरा का उल्लंघन न करने देने की नारेबाजी कर रहे हैं।

यह प्रदर्शनकारी महिला भक्तों से कुछ मीटर की दूरी पर है। प्रदर्शनकारी भगवान अय्यपा के भजन गा रहे हैं और महिलाओं से वापस जाने को कह रहे हैं।

एक नाराज श्रद्धालु ने कहा, “हम सबरीमाला मंदिर की परंपरा व रिवाज को सुरक्षित रखने के लिए अपनी जान दे देंगे लेकिन किसी भी परिस्थिति में इन महिलाओं को पहाड़ी पर चढ़ने की अनुमति नहीं दी जाएगी।”

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’ की रिहाई को लेकर कांग्रेस सक्रिय, राज्यपाल से मिला प्रतिनिधिमंडल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस ईकाई के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’ की रिहाई को लेकर …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com