Breaking News

एसिड अटैक शिकार रानी को वैलेंटाइन डे पर मिला तोहफा

लखनऊ: नौ साल पहले एसिड अटैक का शिकार होकर अपनी आंखों की रोशनी गंवा देने वाली प्रमोदिनी उर्फ रानी को 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे पर एक अनोखा तोहफा मिला. रानी के संग सरोज साहू नामक उस युवक ने सगाई रचाई है जिसे उसकी देखभाल करने के दौरान उससे प्यार हो गया था. उड़ीसा के जगतपुर सिंह पुर में 2009 में कक्षा 12 की छात्रा रानी को कॉलेज से लौटते वक्त अक्सर एक लड़का परेशान करता था. यह एकतरफा प्यार का मामला था और रानी की ना को बर्दाश्त नहीं कर पाने पर इस लड़के ने उसके ऊपर एसिड डाल दिया था.

 

 

एसिड से रानी की आंखों ने ख्वाबों से ही किनारा कर लिया. नौ साल पहले वह आईना भी देखने से कतराती थी. ऐसिड अटैक ने उसके जिस्म को ही नहीं रूह को भी झुलसा दिया था. वहीं रानी आज प्यार के गीत गुनगुना रही है. 25 साल की रानी को जिंदगी में दोबारा मुस्कुराने का हौसला दिया है, उससे मोहब्बत करने वाले 26 साल के मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव सरोज साहू ने.

 

 

वहीं रानी आज प्यार के गीत गुनगुना रही है. 25 साल की रानी को जिंदगी में दोबारा मुस्कुराने का हौसला दिया है, उससे मोहब्बत करने वाले 26 साल के मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव सरोज साहू ने.लखनऊ के शिरोज हैंग आऊट कैफे में आज सगाई करने वाली प्रमोदिनी उर्फ रानी ने बताया 2009 में जब मेरे ऊपर एसिड से हमला हुआ था तो मैं अस्सी फीसद तक झुलस गयी थी, मेरी आंखो की रोशनी पूरी तरह से चली गयी थी और बिल्कुल देख नहीं पाती थी…चलने फिरने से भी मजबूर थी.करीब नौ महीने तक उड़ीसा के एक सरकारी अस्पताल के आईसीयू में रहने के बाद पैसों के अभाव में मेरे परिवार वाले मुझे घर वापस ले आए.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*