कानपुर एनकाउंटर मामला

कानपुर एनकाउंटर की जांच के लिए SIT गठित, 31 जुलाई तक सौंपनी होगी रिपोर्ट

कानपुर। कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्‍या की जांच के लिए अब विशेष जांच दल (एसआइटी) का गठन किया गया है। इन पुलिसकर्मियों की हत्‍या गैंगस्टर विकास दुबे और उसके साथियों ने की थी। इस मामले की जांच के लिए अपर मुख्य सचिव संजय भूसरेड्डी की अध्यक्षता में एसआइटी का गठन किया गया है। एसआइटी को जांच पूरी करके रिपोर्ट इस महीने के अंत तक शासन को सौंपनी है।

यह भी पढ़ें: गैंगस्‍टर विकास दुबे की काली कमाई पर ED की नजर, थाइलैंड और दुबई में इन्वेस्टमेंट का भी शक

इस एसआइटी टीम में अपर पुलिस महानिदेशक हरिराम शर्मा और पुलिस उपमहानिरीक्षक जे. रवींद्र गौड़ को भी शामिल किया गया है। एसआइटी के जरिए घटना से जुड़े विभिन्न प्रकरण की जांच की जाएगी। साथ ही 31 जुलाई, 2020 तक जांच रिपोर्ट शासन को सौंपनी होगी।

विकास दुबे के एक साल के कॉल रिकॉर्ड की भी होगी जांच

एसआइटी के जरिए विकास दुबे और पुलिस के रिश्तों के साथ उस पर अब तक एक्शन न होने के कारणों की भी जांच की जाएगी। इसके अलावा विकास दुबे के एक साल के कॉल रिकॉर्ड की भी जांच होगी। यह भी जांच की जाएगी कि विकास दुबे के खिलाफ अब तक जितने भी मामले थे, उन पर कितनी प्रभावी कार्रवाई की गई। इसके अलावा विकास दुबे के खिलाफ आई शिकायतों पर थानाध्यक्ष चौबेपुर और जनपद के अन्य अधिकारियों के जरिए क्या जांच की गई और क्या कार्रवाई की गई, इसकी रिपोर्ट भी सौंपी जाएगी।

साथ ही विकास दुबे और उसके साथियों के संपर्क में आए सभी पुलिसकर्मियों के खिलाफ सबूत मिलने के बाद कड़ी कार्रवाई के निर्देश भी दिए गए हैं। वहीं, एसआइटी के जरिए इस तथ्य की भी जांच की जाएगी कि घटना वाले दिन अभियुक्तों के पास उपलब्ध हथियारों को लेकर सूचना की लापरवाही किस स्तर पर हुई और क्या थाने में इसकी पूरी जानकारी थी या नहीं। इसकी जांच कर दोषियों का पता लगाया जाएगा।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

बेटे के समान बेटियां भी पैतृक संपत्ति में बराबर की हिस्सेदार: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्‍ली। देश की सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने अपने फैसले में बेटियों को पिता की या …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com