Breaking News

टीम इंडिया के मस्त मौला क्रिकेटर हार्दिक पंड्या के प्रदर्शन से ना खुश है पूर्व क्रिकेटर रॉजर बिन्‍नी ..

टीम इंडिया के मस्त मौला कहे जाने वाले  क्रिकेटर हार्दिक पंड्या के हाल के प्रदर्शन  को देख कर टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर रॉजर बिन्‍नी ने कहा की   पंड्या को  शुक्र मानना चाहिए .की सभी उन्हें  ऑलराउंडर बोलते  है . बिन्‍नी ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ़  सीरीज में हार्दिक  पंड्या का ख़राब प्रदर्शन को देख  यह बात कही . कपिल देव के नेतृत्‍व में वर्ल्‍डकप 1983 में चैंपियन बनने वाली भारतीय टीम के सदस्‍य रहे   है .सीरीज में हार्दिक का  कुछ खासा प्रदर्शन नहीं  देखने को मिला  दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन के पहले टेस्‍ट में 93 रन की पारी को छोड़ दें तो हार्दिक ने अगले पांच टेस्‍ट पारियों में 1, 15, 6, 0 और 4 रन का स्‍कोर बनाया. टेस्‍ट सीरीज में वे महज तीन विकेट हासिल कर पाए .

ये भी देखने -प्रिया प्रकाश वर्रिएर का दिल ना कोहली पे ना पंड्या पे, किसी और क्रिकेटर पर है फ़िदा

 

 

 

 

बिन्‍नी ने कहा –

 

टेस्‍ट सीरीज 1-2 के अंतर से हारने के बाद हालांकि  इंडियन टीम ने वनडे सीरीज पर 5-1 के अंतर से कब्‍जा किया लेकिन इसमें भी हार्दिक का प्रदर्शन खराब रहा. छह मैचों में पंड्या ने  केवल 26 रन बनाए म, 8.66 के औसत के साथ .उन्होंने गेंदबाजी में केवल चार विकेट लिए  .पूर्व क्रिकेटर रॉजर बिन्‍नी ने कहा की’हार्दिक खुशकिस्‍मत हैं कि उन्‍हें ऑलराउंडर माना जा रहा है.वे सिर्फ गेंदबाजी ही कर पा रहे हैं .बल्‍लेबाज में कुछ खाश कमाल नहीं दिखा पा रहे .बस  गेंदबाजी ही कर पा रहे है इसी कारण टीम में अपना स्‍थान बनाए रख पा रहे हैं.’

 

 

 

बिन्‍नी ने यह भी कहा कि समय आ गया है कि हार्दिक की मस्त मौला  रूप में महान कपिलदेव से तुलना नहीं की जानी चाहिए. उन्‍होंने कहा कि बल्‍लेबाज के रूप में वे कपिल के आसपास नहीं हैं. कपिल ने फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट में शतक बनाने के बाद भारत की टेस्‍ट टीम में जगह बनाई थी. पंड्या ने फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट में रन नहीं बनाए और उन्‍हें शीर्ष स्‍तर के क्रिकेट में मौका मिल गया. टी20 क्रिकेट में धमाकेदार प्रदर्शन के कारण उनहें टेस्‍ट टीम में जगह मिली जबकि सीमित ओवरों का क्रिकेट इससे अलग होता है. आप इस फॉर्मेट में रन बनाने में इसलिए सफल होते हैं क्‍योंकि फील्डिंग फैली हुई होती है.

 

 

 

बिन्‍नी ने बल्‍लेबाजी के दौरान हार्दिक की अप्रोच की भी आलोचना की. उन्‍होंने कहा कि वह क्रीज पर पहुंचने के साथ, पहली बॉल से ही हिट लगाने की कोशिश करता है, जो असंभव सी बात है. हार्दिक बहुत अधिक स्‍ट्रोक खेलने की कोशिश करता हूं और क्रीज पर जमने की कोशिश नहीं करता. गौरतलब है कि बिन्‍नी ने भारत के लिए 27 टेस्‍ट और 72 वनडे मैच खेले हैं. अब  देखना ये होगा की पंड्या  पूर्व क्रिकेटर रॉजर बिन्‍नी की बातो को कितना सीरियस लेते है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*