Breaking News

कोल इंडिया के दसवें वेतन समझौता पर सहमति बनी

कोरबा 25 अगस्त  । कोयलाकर्मियों को आखिरकार नए वेतनमान का लाभ मिल गया। दसवें वेतनमान में 20 फीसदी मिनिमम गारंटी बेनिफिट तथा 4 फीसदी स्पेशल एलाउंस पर सहमति बन गई। दिल्ली में हुई जेबीसीसीआई की बैठक में प्रबंधन व यूनियन के मध्य गुरूवार की देर रात समझौता पत्र में हस्ताक्षर किया गया। स्पेशल एलाउंस का फ ायदा नए बेसिक पर जुलाई 2016 से ही मिलेगा।
एसईसीएल समेत कोल इंडिया लिमिटेड की अन्य आनुषांगिक कंपनी में कार्यरत कर्मचारियों के दसवें वेतन में काफी ऊहापोह के बाद प्रबंधन व यूनियन प्रतिनिधियों के मध्य सहमति बन गई। जेबीसीसीआई की आठवीं बैठक कोल इंडिया लिमिटेड के चेयरमैन एस भट्टाचार्य की अध्यक्षता में गुरूवार की शाम 5 बजे दिल्ली में शुरू हुई। दोनों पक्ष ने एक बार फिर अपना प्रस्ताव रखा। चर्चा होने के बाद रात 9 बजे 20 फ ीसदी तथा 4 फ ीसदी फ ार्मूला में सहमति बन गई। इसके तहत जून 2016 के वेतनमान के बेसिक में 20 फ ीसदी की वृद्धि होगी और बढ़े  हुए बेसिक में ही 4 फ ीसदी स्पेशल एलाउंस जोड़ा जाएगा। अब तक स्पेशल एलाउंस का लाभ डेट आफ  एग्रीमेंट से जोड़ा जाता था। पहली बार समझौता हुआ है कि लंबित वेतनमान की तिथि से स्पेशल एलाउंस का लाभ कर्मियों को मिलेगा। इस बैठक में प्रबंधन ने कंपनी की आर्थिक स्थिति का रोना रोते हुए पुन: पुराना राग अलापते हुए अधिक वेतनमान बढ़ोतरी में टालमटोल की नीति अपनाई। प्रबंधन को कोशिश थी कि कई एलाउंस में कटौती कर दिया जाए, पर यूनियन प्रतिनिधियों के विरोध के समक्ष प्रबंधन का मकसद कामयाब नहीं हो सका। एचएमएस के महामंत्री नाथूलाल पांडेय ने कड़ी आपत्ति जताते हुए सभी लाभ जुलाई 2016 से लागू करने दबाव बनाया। जेबीसीसीआई की अब तक हुई बैठक में स्पेशल एलाउंस पर प्रबंधन से कोई चर्चा नहीं हुई, पर गुरूवार को इस मसले पर भी चर्चा कर आखिरकार यूनियन 4 फ ीसदी का फ ायदा लेने में सफल रही। बैठक में एमओयू में साइन हो गया, पर संपूर्ण ड्राफ्ट तैयार होने में कुछ वक्त लगेगा। यहां यह बताना लाजिमी होगा कि कोयला कर्मियों का दसवां वेतनमान जुलाई 2016 से लंबित पड़ा हुआ है। जेबीसीसीआई गठन के बाद अब तक सात बैठक हो चुकी, पर गतिरोध आठवीं बैठक में खत्म हुआ।
कोयलाकर्मियों के वेतन समझौता पांच वर्ष के लिए हो रहा है। वेतन बढ़ोतरी के साथ ही प्रतिवर्ष तीन फ ीसदी इंक्रीमेंट का भी लाभ मिलेगा। इससे कर्मियों के वेतनमान में अतिरिक्त वृद्धि होगी। प्रबंधन ने इस पर अपनी सहमति जता दी है। कोयला कर्मचारियों का लगभग सौ ग्रेड बना हुआ। प्रत्येक विभाग के अनुसार अलग ग्रेड व वेतनमान है इसलिए वेतनमान का निर्धारण भी ग्रेड के अनुसार किया जाना है। सबसे निचला ग्रेड केटेगरी वन मजदूर का होता है जबकि सबसे बड़ा ग्रेड सीनियर सर्वेयर का है। केटेगरी वन का बेसिक जून 2016 को 15712 रुपए है। 20 फीसदी बढ़ोतरी के बाद बेसिक 26293 रुपए हो जाएगी। इस बढ़े हुए बेसिक पर 4 फ ीसदी स्पेशल एलाउंस का लाभ मिलेगा। वेतनमान निर्धारण करने के साथ संपूर्ण ड्राफ्ट तैयार करने में कुछ वक्त लगने की संभावना जताई जा रही हैए ताकि वेतनमान में किसी तरह की विसंगित उत्पन्ना न हो सके। प्रबंधन ने ड्राफ्ट तैयार होने के बाद कोलकाता में ड्राफ्ट कमेटी की बैठक 30 अगस्त को बुलाई है। इसमें सभी यूनियन के सदस्य शामिल होंगे और ड्राफ्ट को अंतिम रूप देकर हस्ताक्षर करेंगे। यहां यह बताना लाजिमी होगा कि आगामी 31 अगस्त को सीआईएल चेयरमैन एस भट्टाचार्य सेवानिवृत्त हो रहे हैंए और उन्हें विदाई के पहले ही कर्मियों का वेतन समझौता करा दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*