भीमा-कोरेगांव की हिंसा पर गाँव वालों ने दी सफाई,हमारा नही बाहरियों का करा-धरा

साल के पहले दिन पुणे के भीमा-कोरेगांव में एक कार्यक्रम के दौरान अचानक भड़की हिंसा ने पूरे देश का ध्यान खींचा. लेकिन हिंसा के बाद अब पुलिस की जांच से गांववाले खासे त्रस्त हैं और शुक्रवार को एक प्रेस कांफ्रेंस करके उन्होंने प्रशासन से उन्हें परेशान नहीं करने की गुहार लगाई और हिंसा के लिए बाहरी लोगों को जिम्मेदार बताया.

पार्टियाँ कर रही घटना का राजनीतिकरण

गांव में भड़की हिंसा के बाद जातिगत हिंसा पूरे महाराष्ट्र में फैल गई. जिसके बाद इस हिंसा पर राजनीतिक दलों ने राजनीतिकरण करना शुरू कर दिया. हालांकि इसके बाद भीमा-कोरेगांव में रहने वाले ग्रामीणों की जिंदगी काफी मुश्किल हो गई है. पुलिस जांच के लिए लगातार उनसे पूछताछ कर रही है. इस जांच-पड़ताल से लोग खासे परेशान है और उन्होंने इस मामले पर अपनी ओर से बात रखने के लिए प्रेस कांफ्रेंस किया.

गाँव की सरपंच ने कहा कि हमारे गाँव के लोग शांतिप्रिय

भीमा-कोरेगांव की महिला सरपंच संगीता गोविंद कांबले ने कहा कि हिंसा के लिए बाहरी लोग जिम्मेदार हैं और सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करे. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, “गांव में भड़की हिंसा के लिए बाहर से आए लोग जिम्मेदार हैं. हम भीमा-कोरेगांव के लोग शांति और सद्भाव के साथ रहते हैं और आगे भी ऐसे ही रहेंगे.” सरपंच संगीता दलित समाज से आती हैं.

 ये भी पढ़े ~मुंबई की मिल्स कंपाउंड बिल्डिंग में लगी आग 14 की मौत,लोकसभा में उठा मुद्दा

गांव के एक अन्य ग्रामीण नारायण पाधत्रे ने भी गांव में अशांति लाने के लिए बाहरी लोगों पर आरोप लगाया. पुलिस अनावश्यक तौर पर यहां के लोगों को परेशान कर रही है. उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, “1 जनवरी को हुई हिंसा के लिए बाहर से आए लोग जिम्मेदार हैं. सरकार को तुरंत ऐसे लोगों पर केस दर्ज कराना चाहिए. पुलिस बेवजह ग्रामीणों को परेशान कर रही है.

ये भी पढ़े ~जायरा वसीम के साथ छेड़छाड़ करने वाले व्यक्ति की पत्नी ने दिया यह बयान

दूसरी ओर, भीमा कोरेगांव में हुए जातीय संघर्ष के लिए आरोपी ठहराए गए संभाजी भिड़े ने कहा की  उन्हें फंसाया जा रहा है. मैंने हिंसा फैलाई यह बेकार की बाते हैं. मैं समाज को तोड़ने का काम नहीं करता हूं.”

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

ऑनलाइन बिरयानी ऑर्डर कर बुरा फंसा युवक, बैंक से कट गए 50 हजार!

एक युवक को ऑनलाइन बिरयानी ऑर्डर करना इतना महंगा पड़ा कि उसके अकाउंट से 49997  रुपये …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com