diwali

इस दिवाली श्रीरामजन्मभूमि में होगा कुछ खास,बनेगा नया रिकॉर्ड

आयोध्या।इस बार कुछ अलग ही अंदाज में दिवाली का त्योहार बनाएं आयोध्यावासी। बाबरी ध्वंस के 28 साल बाद  श्रीराम जन्मभूमि का पूरा परिसर दीपों की माला सा नजर आएगा।दीपोत्सव की तैयारी के लिए अवध विवि के छात्र-छात्रओं को जिम्मेदारी दी गई है,साथ ही शासन-प्रशासन भी पूरी जिम्मेदारी के साथ काम जुट गया है।इस बार दीपोत्सव का त्योहार 11 से 13 नवंबर तक मनाया जाएगा।

इस बार दीपोत्सव का शुभारंभ सीएम योगी रामलला की संध्या आरती के साथ करेंगे। उनके द्वारा आरती के बाद पहला दीप रामलला के दरबार में जलाया जाएगा। इसके बाद संपूर्ण अयोध्या दीपों से जगमगा उठेगी। इस बार राम की पैड़ी पर 5.51 लाख दीप जलाकर विश्व रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है, साथ ही इस बार का दीपोत्सव बेहद खास होने वाला है, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट से राममंदिर का फैसला आने के बाद यह पहला दीपोत्सव है। अब तो राममंदिर का निर्माण भी शुरू हो चुका है।

इसलिए दीपोत्सव को दोगुने उत्साह के साथ मनाने की योजना है। 1992 के बाद यह पहला मौका होगा जब श्रीराम जन्मभूमि परिसर में इतने बड़े स्तर पर दीप जलाए जाएंगे।  तय कार्यक्रम के मुताबिक अयोध्या पहुंचने के बाद मुख्यमंत्री योगी रामायण के प्रसंगों पर आधारित झांकियों का राम कथा पार्क में स्वागत करेंगे। उसके बाद राम और सीता के स्वरूप पुष्पक विमान से राम कथा पार्क पहुंचेंगे जहां मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी इनकी अगवानी करेंगे और आरती करेंगे। फिर यहीं राम का राज्याभिषेक होगा। इसके बाद मुख्यमंत्री सीधे श्रीराम जन्मभूमि परिसर जाएंगे। जहां वह राम जन्मभूमि पर छोटी दीपावली के मौके पर रामलला की आरती उतारेंगे। उसके बाद राम जन्मभूमि परिसर में गाय के गोबर से बनाए गए विषेष दीपक जलाए जाएंगे। यह दीपक सरकारी गोशालाओं में तैयार किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें:निखरी त्वचा बनाने के लिए अपनी रोज की रूटीन में शामिल करें 3 ड्रिंक्स

 

अवध विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रविशंकर सिंह ने कहा कि इस बार के आयोजन में विश्वविद्यालय का अहम योगदान होगा। पिछले वर्ष हमने 4,26,000 दीपक जलाए थे। इस बार हमने 6 लाख से अधिक दीपक जलाने का लक्ष्य रखा है। घाटों की संख्या भी पहले 12 थी। इस बार 24 घाट हैं। इसलिए कार्य दोगुना हो गया है। आयोजन में कुल 8000 सक्रिय वालंटियर्स होंगे। 2000 वालंटियर को रिजर्व में रखा गया है। इस प्रकार कुल 10 हजार वालंटियर काम में लगेंगे।

मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल व जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बैठक में दीपोत्सव कार्यों की समीक्षा कर प्रगति जानी। बाद में उन्होंने पयर्टन, संस्कृति, सूचना, सिंचाई, पीडब्लूडी विभाग, नगर निगम, स्वास्थ्य आदि विभागों के अधिकारियों को समय से कार्यों को पूरा करने के निर्देश दिए। कहा कि कोविड प्रोटोकाल का पालन हर हाल में 11 नवंबर तक पूरा कर लें। पूर्ण कार्यों एवं शिलान्यास कार्यों की सूची को शीघ्र सीडीओ को उपलब्ध कराएं। प्रत्येक दिन समीक्षा की जाय। सूचना विभाग द्वारा पूर्व की भांति मीडिया सेंटर की स्थापना श्रीराम कथा संग्रहालय के प्रथम तल पर की जाएगी।

 

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

हनुमान की तरह क्या पूरी फिल्म इंडस्ट्री यूपी ले आयेंगे योगी !

  # नोएडा में आबाद टीवी न्यूज इंडस्ट्री के बाद क्या अब हिंदी फिल्म इंडस्ट्री …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com