क्रास वोटिंग से बचने के लिए BJP और शिवसेना ने होटलों में ठहराए अपने-अपने पार्षद.

 

 

 महाराष्ट्र में मेयर के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच आयी दरार का गलत असर पड़ता नजर आ रहा  है नगर पालिका के चुनाव से पहले बीजेपी और शिवसेना अपने पार्षदों को क्रास वोटिंग से बचाने में जुट गई है.

 

  • 22 नवंबर को होगा नासिक नगर पालिका मे मेयर का चुनाव
  • एनसीपी ने थामा शिवसेना का हाथ

 

महाराष्ट्र में नगर पालिका के चुनाव 22 नवंबर को है, जिसमें पार्षदों को क्रास वोटिंग से बचाने के लिए बीजेपी ने अपने 53 पार्षदों को सिंधुदुर्ग जिले के एक रिजॉर्ट में ठहराया है तो वहीं शिवसेना ने भी अपने 34 पार्षदों को मुंबई के एक होटल में ठहरा दिया है । जब कि 122 सदस्यीय नासिक नगर पालिका में मेयर का चुनाव 22 नवंबर को होना है. बीजेपी के पास 65 पार्षद हैं, जिनमें से 12 पार्षदों ने रिजॉर्ट में जाने से मना कर दिया. शिवसेना के 34, कांग्रेस के 6, एनसीपी के 6, एमएनएस के 6 और निर्दलीय 5 पार्षद हैं. जिसमे एनसीपी शिवसेना के समर्थन मे है तथा BJP को सत्ता से दूर रखना चाहती है।

 

मुंबई मे मेयर का चुनाव 22 नवंबर को

 

नासिक के बाद अब  मुंबई में भी मेयर का चुनाव होना है. यहां ढाई-ढाई साल के अंतराल में मेयर चुनाव होता है जिसमे मेयर चुना जाता है। इससे पहले फरवरी 2017 में बीजेपी और शिवसेना ने आपस मे समर्थनकर लियाथा जिससे शिवसेना के उम्मीदवार  विश्वनाथ महादेश्वर  मुंबई के मेयर बने । और विश्वनाथ महादेश्वर का कार्यकाल सितंबर 2019 में समाप्त होने वाला ही था लेकिन विधानसभा चुनाव की वजह से उनका कार्यकाल नवंबर तक बढ़ा दिया गया था, अब वहां मेयर का चुनाव हो रहा है.

 

 

 

 

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

डा0 चन्द्रमोहन- सपा सरकार से कम लागत में योगी सरकार बनवायेगी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे

लखनऊ। लखनऊ से शुरू होकर गाजीपुर तक जाने वाली पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को बलिया से जोड़ने …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com