गर्भवती हथिनी की ‘हत्या’ पर सियासत, स्मृति के निशाने पर राहुल गांधी

नई दिल्‍ली। केरल के मलप्पुरम में साइलेंट वैली फॉरेस्ट में एक गर्भवती हथिनी को पटाखे से भरा अनानास खिलाकर मारने के मामले को लेकर राजनीति के गलियारों में भी हलचल मची हुई है। इस मामले को लेकर भाजपा लगातार कांग्रेस को घेर रही है। वहीं, केंद्र सरकार ने भी इस पर सख्त रुख अपनाया है।

यह भी पढ़ें: मशहूर निर्देशक बासु चटर्जी नहीं रहे, 90 वर्ष की आयु में हुआ निधन

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने घटना पर रोष जताते हुए केरल के वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र की भावनाओं से खिलवाड़ हुआ है। स्‍मृति ईरानी ने कहा कि राहुल से संवेदना की उम्मीद नहीं है। राहुल गांधी ने अमेठी में इंसानों की परवाह नहीं की तो केरल में जानवरों की क्या परवाह करेंगे।

मेनका गांधी ने भी साधा निशाना   

वहीं, हथिनी की मौत पर पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी भी व्यथित हैं। मेनका गांधी ने पूछा कि राहुल गांधी बताएं कि क्या इस घटना पर क्या कार्रवाई की गई है। बुधवार को उन्होंने इस घटना को हत्या करार दिया था। मेनका ने कहा कि राहुल ने खुद वायनाड सीट चुनी थी और आराम से जीत कर आए। अब जब खुद चुना है तो बजाए ये कि वे पूरे देश को ठीक करें, पहले अपने क्षेत्र को ठीक करें।

मेनका गांधी ने घटना को लेकर कहा कि वन सचिव को हटा दिया जाना चाहिए। वन्यजीव संरक्षण के लिए नियुक्त मंत्री को भी इस्तीफा दे देना चाहिए। राहुल गांधी उस क्षेत्र से हैं, उन्होंने कार्रवाई के लिए पहल क्यों नहीं की?  मेनका ने एक ट्वीट के साथ डॉक्यूमेंट्स भी अटैच किए, जिसमें उन्होंने करीब 600 हाथियों के मारे जाने का जिक्र किया है।

कांग्रेस ने किया राहुल गांधी का बचाव 

उधर, कांग्रेस ने राहुल गांधी का बचाव करते हुए कहा कि उन्हें इस मामले पर बेवजह घेरा जा रहा है। केरल में जो हुआ वह बेहद अफसोसजनक है।

दोषियों पर होगी कार्रवाई- जावड़ेकर 

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने गुरुवार को कहा कि केंद्र सरकार ने केरल में हथिनी की मौत को गंभीरता से लिया है। हम सही तरीके से जांच करने और अपराधियों को पकड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। यह भारतीय संस्कृति नहीं है कि जानवरों को पटाखे खिलाकर मारो।

यह है मामला

केरल के मलप्पुरम में एक गर्भवती हथिनी की पानी में खड़े-खड़े मौत हो गई थी। मामला संज्ञान में तब आया, जब केरल के एक अधिकारी ने इस मामले की जानकारी सोशल मीडिया पर पोस्ट की। भूखी गर्भवती हथिनी खाने की तलाश में जंगल से भटक कर रिहायशी इलाके में पहुंच गई थी। हथिनी सड़क पर टहल रही थी, तभी किसी ने उसे पटाखे से भरा अनानास खिला दिया था, जिससे उसका मुंह फट गया था।   

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

मैं अपने घर बसपा में पुन: लौटा- राज किशोर सिंह

लखनऊ। उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में राज किशोर सिंह एक चर्चित नाम बन चुके हैं। …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com