UP में BJP ने उतारे 200 प्रोफेशनल्‍स, कांग्रेस के स्‍ट्रैटजिस्‍ट प्रशांत से मुकाबला

यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने स्‍ट्रैटजी तैयार करनी शुरू कर दी है। इसके तहत पार्टी ने 200 प्रोफेशनल्स की एक टीम ‘ब्रिलियंट माइंड्स’ बनाई है जो जीत का फॉर्मूला तलाशने में जुटी है। इस टीम को कांग्रेस स्‍ट्रैटजिस्‍ट प्रशांत किशोर कीnamo टीम का काट माना जा रहा है। लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार बीजेपी ने प्रोफेशनल्स की इतनी बड़ी टीम बनाई है।नतीजे ठीक मिले तो 2019 के आम चुनाव का जिम्मा भी इसी टीम को…
– सूत्रों के मुताबिक, अगर टीम ने पॉजिटिव रिजल्ट दिया तो 2019 लोकसभा चुनाव के लिए भी यही टीम बीजेपी के चुनावी कैम्पेन की जिम्मेदारी संभाल सकती है।
– इस प्रोफेशनल टीम को एसोसिएशन ऑफ ब्रिलियंट माइंड्स (एबीएम) नाम दिया गया है।
– इसे कांग्रेस स्‍ट्रैटजिस्‍ट प्रशांत किशोर की टीम का काट माना जा रहा है, जो लोकसभा चुनाव में बीजेपी के साथ थे। फिलहाल, वे यूपी में कांग्रेस के चुनावी कैम्पेन की कमान संभाल रहे हैं।
क्या करेगी यहटीम?
– बीजेपी की इस टीम में करीब 200 प्रोफेशनल हैं। टीम से जुड़े एक मेंबर ने बताया, “टीम में किसी को हेड नहीं बनाया गया है।”
– “सभी के पास अलग-अलग काम हैं। टीम प्रदेश के शहरी, युवा और मिडल क्लास लोगों के बीच जाकर उनकी प्रायोरिटी समझेगी और उस हिसाब से बीजेपी को अपनी चुनावी स्‍ट्रैटजी और मेनिफेस्‍टो तैयार करने में मदद करेगी।”
टीम में हैं IIT और IIM पासआउट स्‍टूडेंट्स
– प्रोफेशनल टीम में दो दर्जन से ज्‍यादा आईआईटी और आईआईएम पासआउट हैं। पिछले करीब 15 दिनों से टीम प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में काम कर रही है।
– टीम का काम लगातार फीडबैक देने के अलावा आइडिया देना भी है।
– सूत्रों के मुताबिक, अमित शाह की पिछले दिनों लखनऊ विजिट में इस टीम के साथ लंबी बातचीत भी हुई थी।
– टीम के एक मेंबर ने कहा- “हाल के दिनों में चुनाव मैनेजमेंट का रोल बढ़ा है। हम इसी जरूरत को पूरा कर रहे हैं। हम आइडियोलॉजी के लेवल पर भी खुद को बीजेपी के करीब मानते हैं।”
मोदी ने दी थी हरी झंडी
– बताया जा रहा है कि एबीएम के कॉन्‍सेप्‍ट के साथ गुजरात के कुछ लड़कों ने बीजेपी से जुड़ने की इच्छा को लेकर नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी।
– उनकी ओर से दिया गया प्रेजेंटेशन देखने के बाद मोदी प्रभावित हुए और टीम को आगे बातचीत के लिए अमित शाह के पास भेजा।
– उस समय शाह ने इस टीम का इस्‍तेमाल यूपी में करने का फैसला किया।
बीजेपी के यूपी चीफ का क्या कहना है?
– बीजेपी यूपी चीफ केशव प्रसाद मौर्या ने बताया, “कांग्रेस और पीके (प्रशांत किशोर) की टीम बीजेपी से टक्‍कर लेने लायक नहीं है।”
– “हम प्रोफेशनल्‍स के साथ नहीं, बल्कि अपने जमीन से जुड़े वर्कर्स के साथ प्रोफेशनल तरीके से चुनावों की तैयारी कर रहे हैं।”
– “हमारा लक्ष्‍य यूपी असेंबली इलेक्शन को पूर्ण बहुमत से जीतने का है और ये जल्‍द ही धरातल पर उतरेगा।”
– “इसमें कोई शक नहीं है कि बीजेपी 2019 का चुनाव भी पूर्ण बहुमत से मोदी जी की अगुआई में जीतेगी।”
– “हमारे यहां अपने ही वर्कर्स को प्रोफेशनल तरीके से काम करना बताया जाता है और जनता की बात को आसानी से समझकर उनकी प्रॉब्लम्स को हल करने के लिए उन्‍हें सही दिशा दी जाती है।”
बीजेपी के लिए काम कर चुके हैंप्रशांत किशोर
– मोदी के 2014 चुनावी कैम्पेन को प्रशांत किशोर
की अगुआई वाली सिटिजन फॉर अकाउंटेबल गवर्नेंस (सीएजी) ने संभाला था।
– लेकिन उस सफल कैम्पेन के बाद सीएजी और मोदी का करार टूट गया। इसके बाद प्रशांत जेडीयू और बिहार के सीएम नीतीश कुमार के साथ चले गए। अब कांग्रेस के साथ हैं।
– सूत्रों की मानें तो बीजेपी 2019 लोकसभा चुनाव से पहले प्रोफेशनल्स की एक बड़ी टीम बनाना चाहती है जो पार्टी की कैम्पेन स्‍ट्रैटजी में मदद कर सके।
– इससे पहले भी असम विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी ने रजत सेठी के नेतृत्व में प्रोफेशनल्स की एक टीम को चुनाव प्रचार की दिशा और विजन डॉक्युमेंट को तैयार करने का जिम्मा दिया था।
– चुनाव के बाद रजत सेठी को झारखंड के सीएम रघुबर दास का सलाहकार बना दिया गया।

Check Also

गुलाबी होगा महिलाओं की सेफ्टी का रंग

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ में महिलाओं की सेफ्टी का रंग पिंक यानी गुलाबी रंग …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com