Breaking News

उतर प्रदेश सरकार के मंत्री को मिली जान से मारने की धमकी

उतर प्रदेश सरकार के एक कैबिनेट मंत्री अपनी ही सरकार में खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं  दरअसल बीजेपी सरकार के एक मंत्री को जान से मारने की धमकी मिली है। मंत्री ने एक बार फिर जान से मारने की धमकी दिए जाने का दावा करते हुए पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। मंत्री नंदी की तरफ से उनके वकील की लिखित शिकायत पर इलाहाबाद पुलिस ने शहर के जार्ज टाउन पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कर अपनी तहकीकात शुरू कर दी है।

 

 

मंत्री द्वारा दर्ज कराई गई एफआईआर में कहा गया है कि उनके पर्सनल मोबाइल पर किसी ने फोन कर जान से मारने की धमकी दी है। धमकी देने वाले ने खुद को भदोही जिले के बाहुबली विधायक विजय मिश्र व इलाहाबाद के दबंग दिलीप मिश्र का खास बताया है।

 

मंत्री को दिजाएगी सुरक्षा 

यह दोनों मंत्री नंदी पर 8 साल पहले हुए रिमोट हमले में भी आरोपी हैं और जेल जा चुके हैं। इलाहाबाद पुलिस के मुताबिक नंबर की डिटेल्स हासिल कर ली गई हैं। यह शहर में ही रहने वाले रजत केसरवानी के नाम पर है। पुलिस फिलहाल रजत को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। अफसरों का कहना है कि इस मामले में न सिर्फ जांच के बाद कड़ी कार्रवाई की जाएगी बल्कि मंत्री की सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किये जाएंगे।

चर्चा का बाजार है गर्म

मंत्री नंद गोपाल नंदी की भदोही के बाहुबली विधायक विजय मिश्र से पुरानी दुश्मनी है। वैसे मंत्री को मिली इस धमकी को लेकर चाय पर चर्चा का बाजार भी गर्म है और लोग अपने-अपने हिसाब से कयासबाजी भी कर रहे हैं। दरअसल इलाहाबाद में 2 दिन पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने संगम किनारे परेड ग्राउंड पर एक समारोह में इलाहाबाद के लिए साढ़े पांच हजार करोड़ से ज्यादा की योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया था।

 

इस समारोह में शामिल थे बीजेपी के कई बड़े नेता 

इस समारोह में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल, यूपी के कैबिनेट मंत्री व प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह समेत तमाम दूसरे लोग भी मौजूद थे। समारोह में मंच पर बाहुबली विधायक विजय मिश्र को भी जगह दी गई थी। मंत्री नंद गोपाल नंदी विशिष्ट अतिथि और उनकी पत्नी अभिलाषा शहर की मेयर होने के बावजूद समारोह में शामिल नहीं हुए थे।

कयास यही लगाए गए थे कि दुश्मन विधायक विजय मिश्र को मंच पर जगह मिलने से मंत्री नंदी व उनकी मेयर पत्नी ने समारोह का बायकॉट किया था। समारोह के अगले ही दिन मंत्री ने विधायक विजय मिश्र को शामिल करते हुए उनके अज्ञात कथित करीबी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*