Breaking News

चौथी बार फिर राष्ट्रपति की कुर्सी संभालेंगे व्‍लादिमीर पुतिन

एक बार फिर पुतिन  बने रूस के राष्‍ट्रपति लोगो को संबोधित  करते हुए किया शुक्रिया .व्‍लादिमीर पुतिन का 2024 तक सत्‍ता पर काबिज रहेंगे ससे पहले 2012 में हुए राष्‍ट्रपति चुनाव के मुकाबले उनके वोट प्रतिशत में भी बढ़ोतरी हुई है। उस चुनाव में उन्‍हें 64 फीसदी मिले थे रूसी राष्‍ट्रपति बनने की दौड़ में पुतिन को टक्‍क्‍र देने के लिए चुनावी मैदान में कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के पावेल ग्रुदिनिन थे। उन्‍हें महज 13 फीसदी ही वोट मिले। उनके अलावा नेशनलिस्‍ट पार्टी के व्‍लादिमीर जिरिनोवस्‍की चुनावी मैदान में थे। उन्‍हें महज 6 फीसदी ही वोट मिले।

 

 

 

ये भी पढ़े-पाकिस्तान के विदेश मंत्री ख्वाजा मुहम्मद आसिफ का बयान-नहीं अच्छे हो सकते दोनों देशो के रिश्ते

 

 

 

Image result for रूसी राष्‍ट्रपति

 

पुतिन के खिलाफ मैदान में कुल सात उम्‍मीदवार थे। वहीं मुख्‍य विपक्षी नेता एलेक्‍सी नवालनी को चुनाव से प्रतिबंधित कर दिया गया था। सेनिया सोबचाक को 2 फीसदी वोट मिले।
व्‍लादिमीर पुतिन पहली बार वर्ष 2000 में रूस के राष्‍ट्रपति बने थे। पुतिन ने पहली बार सात मई, 2000 को राष्‍ट्रपति पद संभाला था। उनके चार-चार साल के दो कार्यकाल मई 2008 में समाप्‍त हुए।
इसके बाद वह 8 मई, 2008 को रूस के प्रधानमंत्री बने। वह 2012 में राष्‍ट्रपति बनने से पहले तक प्रधानमंत्री रहे। इससे पहले भी वह 1999 से 2000 तक प्रधानमंत्री रह चुके थे। पुतिन का जन्‍म 7 अक्‍टूबर, 1952 को हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*