मकर संक्रांति

मकर संक्रांति को मनाने का कारण जान हैरान रह जाएंगे आप, पढ़ें यह कहानी!

मकर संक्रांति को मनाने का कारण जान हैरान रह जाएंगे आप, पढ़ें यह कहानी!…….

दुनिया में हर त्योहार को मनाने के पीछे कोई न कोई मान्यता या कारण छुपा होता है, चाहे वह त्योहार दिवाली हो, क्रिसमस हो या फिर ईद। हर धर्म के लोग अपने त्योहारों को बड़ी ही धूम-धाम से मनाते हैं। अब इसी बीच हिंदू धर्म का त्योहार मकर संक्रांति भी आने वाला है जिसे पूरा भारत वर्ष बड़े उल्लास- पूजा अर्चना से मनाता है। मकर संक्रांति को मनाने के पीछे का कारण भीष्म पितामह से जुड़ा हुआ है, आइए जानते हैं इस त्योहार से जुड़ी कुछ बातें…..

हिंदू धर्म के अनुसार मकर संक्रांति के पर्व के दिन विधि से पूजन का विधान है। इस दिन जप-ताप, दान, स्नान, तर्पण समेत कई धार्मिक कार्य किए जाते हैं। बच्चों से लेकर बूढ़ों तक सभी इस त्योहार के लिए उत्साहित रहते हैं।

मकर संक्रांति

कहा जाता है कि इस दिन सूर्य भगवान अपने पुत्र शनि की राशि को छोड़कर मकर राशि में प्रवेश करते हैं इसलिए मकर संक्रांति कहते हैं। जब सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते हैं तो सूर्य की किरणों से अमृत की बरसात होने लगती है। इस दिन सूर्य उत्तरायण होते हैं। शास्त्रों में यह समय देवताओं का दिन दक्षिणायन को देवताओं की रात्रि कहा जाता है। मकर संक्रांति सूर्य के उत्तरायण होने से गरम मौसम की शुरुआत होती है, और इसे हर साल 14-15 जनवरी को मनाया जाता है।

कहा जाता है कि इस दिन खिचड़ी दान की जाती है, इस दिन किया गया दान सौ गुना होकर लौटता है इसलिए भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के बाद पूजन करके घी, तिल, कंबल और खिचड़ी का दान किया जाता है। माना जाता है कि मकर संक्रांति के दिन गंगा-यमुना-सरस्वती के संगम प्रयाग में सभी देवी-देवता अपना रूप बदलकर स्नान करने आते हैं।

अगर बात करें पौराणिक बातों की तो महाभारत काल में भीष्म पितामह ने अपनी देह त्यागने के लिए मकर संक्रांति का ही चयन किया था। इसके साथ ही इस दिन भागीरथ के पीछे-पीछे चलकर कपिल मुनि के आश्रम से होती हुई सागर में जाकर मिली थीं। इस दिन पतंग भी उड़ाई जाती हैं। माना जाता है कि संक्रांति के स्नान के बाद पृथ्वी पर फिर से शुभकार्य की शुरुआत हो जाती है।

प्रदेश की धड़कन, 'इंडिया जंक्शन न्यूज़' के ताजा अपडेट पाने के लिए जुड़ें हमारे फेसबुक पेज से...

Check Also

महादेव मंदिर की दावेदारी को लेकर भिड़े दो पक्ष, पुलिस निगरानी में हुआ रुद्राभिषेक

  लखनऊ:  प्रदेश भर में जहां भोले भक्त महाशिवरात्रि पर्व पर भक्ति के रस में …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com