अंतिम अग्नि परीक्षा पास कर 317 जवान थल सेना के अंग

कदम-कदम बढ़ाए जा खुशी के गीत गाए जा, ये जिंदगी हैकौम की तू कौम पे लुटाए जा। इस सैनिक गीत की स्वर लहरियों के बीच देश की आन-बान-शान की हर कीमत पर रक्षा करने की कसम ग्रहण कर गढ़वाल रेजीमेंट के 317 जवान थल सेना में शामिल हो गए। इस मौके पर परेड के पुर्ननिरीक्षण अधिकारी कर्नल लक्ष्मण सिंह ने नव प्रशिक्षित जवानों से वक्त पड़ने पर देश की सेवा के लिए अपने जीवन का सर्वोच्च बलिदान देने का आह्वान किया है।
गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंट सेंटर के परेड ग्राउंड में कसम परेड समारोह का आयोजन किया गया। कोर-65 के 317 जवान सेना की ट्रेनिंग का अंतिम पग पार करके भारतीय थल सेना का अभिन्न अंग बन गए।
शहीद संदीप रावत की अंतिम यात्रा में उमड़ा जन सैलाब
इस मौके पर नव प्रशिक्षित रिक्रूटों ने परेड के पुर्ननिरीक्षण अधिकारी उत्तराखंड सब एरिया ईसीएचएस अफसर कमांडिंग कर्नल लक्ष्मण सिंह को शानदार ड्रिल का प्रदर्शन कर सलामी दी। परेड कमांडर राइफलमैन अर्जुन सिंह के नेतृत्व में छह टुकड़ियों का संचालन राइफलमैन अजय सिंह, राइफल मैन मोहित सेमवाल, राइफलमैन उत्तम सिंह, राइफल मैन अजय कुमार, राइफल मैन संतोष बहुगुणा, राइफल मैन अजीत सिंह ने किया।
परेड को संबोधित करते हुए पुर्ननिरीक्षण अधिकारी कर्नल लक्ष्मण सिंह ने कहा की नव प्रशिक्षित रिक्रूटों ने सेना में शामिल होकर अपने कैरियर का सर्वोत्तम निर्णय लिया है। उन्होने रेजीमेंट की वीरता की परंपरा को और रोशन करने का आह्वान किया। इस मौके पर गढ़वाल रेजीमेंट के ब्रिगेडियर इंद्रजीत चटर्जी, समेत सैन्य अधिकारी मुख्य रूप से मौजूद थे।
कोर-65 के कसम परेड समारोह में ट्रेनिंग के दौरान सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले सैनिकों को सम्मानित किया गया। इनमें राइफल मैन अरविंद सिंह को गोल्ड, राइफल मैन अनय प्रताप सिंह को रजत व प्रवीन सिंह को कास्य पदक से सम्मानित किया गया।
उत्तराखंड में युवाओं के लिए सुनहरा मौका, भारतीय सेना में भर्ती अगले महीने से शुरू
ड्रिल में सर्वोत्तम प्रदर्शन के लिए अर्जुन सिंह, व फायरिंग में अनिल सिंह को सम्मानित किया गया। प्लाटून कमांडर के पदक से सूबेदार दिग्विजय सिंह को सम्मानित किया गया।

Check Also

मैने शुरू किया टी10 -टी20 क्रिकेट : राम रहीम

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम ने दावा किया है कि टी10 और टी20 …