मोबाइल के रिंगटोन ने दी सजा

अपने ही गांव की विवाहिता से इश्क लड़ाना एक युवक को भारी पड़ा। विवाहिता को उपहार में दिया मोबाइल, युवक के गले की फांस बना और आखिर में पिंड छूटा पांच जूते खाकर। यह फैसला सुनाया बिरादरी की पंचायत ने।
वाकया लक्सर कोतवाली के सेठपुर गांव का है। यहां रहने वाले एक युवक की कुछ समय पहले गांव की ही एक विवाहिता से अंखियां लड़ गई। कुछ दिनों तक उनका चोरी-छिपे मिलना-जुलना चला। लेकिन, सामाजिक बंदिशों के चलते दोनों एक दूसरे को ज्यादा समय नहीं दे पा रहे थे। इस पर प्रेमी युवक ने हाल में विवाहिता को मोबाइल गिफ्ट किया और सुझाया कि उसे जब भी फुर्सत मिले, इससे बात कर लेना।

उसके बाद से सब कुछ उनकी मर्जी से चल रहा था, लेकिन शनिवार दोपहर मामला तब खुल गया, जब विवाहिता के परिजनों को मोबाइल की रिंगटोन सुनाई दी। उस वक्त विवाहिता घर का कामकाज निबटाने में जुटी थी। मोबाइल कमरे में रखा था। मोबाइल के बारे में पूछे जाने पर विवाहिता परिजनों को बरगलाने की कोशिश करने लगी, मगर सख्ती दिखाने पर उसने सब कुछ उगल दिया। इसके बाद शुरू हुई मोबाइल गिफ्ट करने वाले प्रेमी युगल की तलाश।

शाम को इस मुद्दे पर गांव में बिरादरी की पंचायत बैठी। इसमें प्रेमी को बुलाकर पहले तो खरी खोटी सुनाई गई और फिर उसे सजा देने पर बहस कराई गई। बिरादरी के लोगों ने प्रेमी युवक की करतूत पर कड़ा ऐतराज जताया और दंडस्वरूप उसे पांच जूते मारने की फरमान सुना डाला।

पंचायत के सामने ही युवक को पांच जूते मारे गए। इसके बाद भविष्य के लिए चेतावनी देकर मामले को रफा-दफा कर दिया गया। कोतवाली पुलिस ने घटनाक्रम के संबंध में जानकारी होने से अनभिज्ञता जाहिर की। गांव वाले भी इस बारे में कुछ बोलने से बच रहे हैं। हां, दबी जुबां में चर्चे खूब हो रहे हैं।

Check Also

अगर एशिया कप से बाहर हुआ पाक तो हिस्सा नही लेंगे रमीज राजा

पाकिस्तान ने एशिया कप 2023 को लेकर अपनी बोखलाहट जाहिर की है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड …