अमृतसरः मानहानि के मामले में जमकर हुई नौक-झौंक

अमृतसर.कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया की ओर से दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के कन्वीनर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ दायर मानहानि के मामले की सुनवाई मंगलवार को अमृतसर कोर्ट में हुई। हालांकि, मजीठिया के नहीं पहुंचने से मामले की अगली सुनावई अब 18 नवंबर को होगी। सुनवाई के दौरान अरविंद केजरीवाल और मजीठिया के वकील में तीखी नौकझोक भी देखने को मिली।
सुनवाई के दौरान केजरीवाल के वकील हिम्मत सिंह शेरगिल ने कोर्ट में कहा कि ड्रग्स मामले में गिरफ्तार पंजाब के पूर्व डीएसपी जगदीश भोला ने पुलिस पूछताछ में कहा था कि मजीठिया की सह पर पंजाब में तस्करी होती है और यह बातें अखबार में भी प्रकाशित हुई थीं। इसी को आधार बना कर रैलियों में मजीठिया के खिलाफ ये आरोप लगाए थे
इस पर मजीठिया के वकील ने कोर्ट में कहा कि यह अखबार में छपी बातों को तोड़-मरोड़कर बोलते हैं। इनके पास मजीठिया के खिलाफ कोई सबूत नहीं हैं। इसके बाद कोर्ट ने मजीठिया के नहीं पहुंचने पर अगली सुनवाई 19 नवंबर तय की है।
उन्होंने बताया कि व्यस्त होने के कारण 15 अक्टूबर को वह पेश नहीं हो पाए थे और इस संबंधी अदालत से छूट ले रखी थी, लेकिन मंगलवार सुबह सुनवाई के लिए पेश होने आ गए हैं।
गौरतलब है कि मजीठिया ने केजरीवाल सहित संजय सिंह और आशीष खेतान के खिलाफ मानहानि का मामला दायर करवाया है। मजीठिया का आरोप है कि उक्त नेताओं ने अपने भाषणों दौरान उन्हें नशे का सौदागर और नशा बेचने वालों को शैल्टर करने की बात कही है।

Check Also

दिल्ली में दरिंदगी की देहशत

निर्भया कांड आजाद हिंदुस्तान की उन वीभत्स और जघन्य घटनाओं में से एक है। जिसने …