आयुर्वेदिक इलाज:- जुकाम,खांसी का देशी लाज

1. जुकाम होने पर काली मिर्च, गुड़ और दही मिलाकर खाएँ। इससे बंद नाक खुलती है।

जुकाम का आयुर्वेदिक इलाज

2 रोज रात को उबाल-उबाल कर आधा किया हुआ जल गुनगुना कर पीने से जल्दी फायदा होगा।

सर्दी जुकाम और खांसी

3 सौंठ, पिप्पली,बेल का गुदा और मुनक्का को एक चौथाई होने तक पानी में उबालें। इसे छानकर उतना ही सरसों का तेल डालकर फिर उबालें। जब पानी हवा में उड़ जाए तब उतारकर ठंडा कर लें। इस मिश्रण की एक बूँद नाक में डालने से जुकाम की लगातार चलने वाली छींकें बंद होगी।

जुकाम की दवा

4 दूध में जायफल, अदरक, तथा केसर डालकर खूब उबालें। जब आधा हो जाए तब गुनगुना करके पिएँ। जुकाम में तुरंत राहत मिलेगी।

बंद नाक खोलने के उपाय

5 सात-आठ काली मिर्च को घी में तड़का लें और फटाफट खाते जाएँ ऊपर से गर्मागर्म दूध या पानी पिएँ तो जुकाम से लड़ने की शक्ति बढ़ेगी और कफ खुलेगा।

बार बार जुकाम होना

6 पान के रस में लौंग व अदरक का रस मिलाए फिर इसे शहद के साथ पिएँ, जुकाम गायब होगा।

Check Also

केरल के छात्राओं के लिए महावारी के दिन में मिलेगी राहत

माहवारी में दिन काफी कठिन होते है महिलाओं के लिए और उसी दर्द मे महिलाओ …