उत्तर प्रदेश में हो सकता है महागठबंधन

उत्तर प्रदेश चुनाव में भी बिहार की तर्ज पर महागठबंधन बनाने के प्रयास को बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने खारिज कर दिया है. मोदी ने कहा कि बिहार के जैसा महागठबंधन उत्तर प्रदेश में नहीं बन सकता है और इसकी वजह समाजवादी पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव और बहुजन समाजवादी पार्टी की सुप्रीमो मायावती का एक दूसरे से धुर विरोध है.
बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा कि मुलायम सिंह यादव और मायावती दोनों में से कोई भी नीतीश कुमार की तरह चुनाव जीतने के लिए अपने धुर विरोधी के पैरों में नहीं गिरने वाला है. गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने बुधवार को कहा था कि उत्तर प्रदेश में भी महागठबंधन का फार्मूला सफल हो सकता है अगर समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी दोनों साथ आ जाए.

सुशील मोदी ने कहा कि ‘लाखों मुस्लिम औरतों का उत्पीड़न करने वाली तीन तलाक प्रथा पर चुप्पी साधने और आतंकियों के मारे जाने पर छाती पीटने वाले नितीश कुमार को यूपी में कोई नहीं पूछ रहा है. महागठबंधन वहां नहीं बन सकता क्योंकि मुलायम या मायावती में से कोई भी नीतीश की तरह अपने विरोधी नेता के पैर पर गिरने वाला नहीं है.’
मोदी ने लालू पर भी निशाना साधते हुए कहा आरजेडी मुखिया ने महागठबंधन सरकार में शहाबुद्दीन से नीतीश कुमार के खिलाफ बयान दिलवाकर महागठबंधन में आग लगाने का काम किया है. ट्वीट कर सुशील मोदी ने लिखा कि अगर महागठबंधन सरकार में शामिल दो प्रमुख दल, जनता दल यूनाइटेड और राष्ट्रीय जनता दल में सब कुछ ठीक-ठाक है तो फिर क्यों लालू यादव को बार-बार भरोसा दिलाना पड़ रहा है के महागठबंधन की सरकार पूरे 5 साल चलेगी? मोदी ने कहा कि अगर महागठबंधन सरकार में सब कुछ ठीक-ठाक है तो फिर क्यों सरकार की कार्यकाल पर रोज बुलेटिन जारी करने की जरूरत पड़ती है.

Check Also

बिहार की शादी में हुई मटन के पीछे मारपीट 3 लोग घायल

शादी समारोह में नाच के दौरान गोली चलने और मारपीट की खबरें आपने सुनी होंगी …