कंगना ने थोड़े से काम के मांगे 2 करोड़

चंडीगढ़। हिमाचल टूरिज्म का ब्रांड एम्बेसडर बनने के लिए बॉलीवुड क्वीन कंगना रनोट ने जिस बजट की मांग की उस हिसाब से कंगना की एक झलक सरकार को 2 करोड़ रुपए की पड़ रही थी। यही नहीं कंगना ने प्रतिदिन 45 लाख रुपए फीस और शूटिंग के लिए पूरी यूनिट के आने-जाने के खर्च और रहने, खाने-पीने का खर्च भी हिमाचल सरकार को उठाने कहा था। जिसके बाद सरकार ने उन्हें ब्रांड एम्बेसडर बनाने से इनकार कर दिया।
पढ़ें क्या है पूरा मामला…
– कंगना रनौत को ब्रांड एम्बेसडर बनाने के प्रस्ताव को ड्रॉप करने के बाद कंगना के परिजनों ने हिमाचल सरकार व पर्यटन बोर्ड पर अनदेखी करने के आरोप लगाए।
-इसके बाद बोर्ड के अधिकारियों को तथ्यों के साथ सामने आने पड़ा।
-इन आरोपों पर सफाई देते हुए बोर्ड के सदस्य डॉ. एसपी कत्याल ने कहा कि कंगना ने हिमाचल की जनता को शर्मिंदा किया है।
-पहले कंगना बात करने को राजी नहीं हुई, राजी होने पर उन्होंने छह माह तक अफसरों को इंतजार कराया।
-बोर्ड उपाध्यक्ष मेजर विजय सिंह के प्रयासों के बाद कंगना इस प्रस्ताव पर बात करने को राजी हुईं।
ये हुई थी बातचीत…
– कंगना से बातचीत के दौरान अधिक फीस की मांग की।
-कंगना ने एक दिन की शूटिंग के लिए 45 लाख रुपये की फीस मांगी।
-शूटिंग और यूनिट के सभी खर्च भी सरकार को उठाने को कहा।
-डॉ. कत्याल ने बताया कि यह सभी खर्च मिलाकर कंगना की एक झलक दो करोड़ रुपये में पड़ रही थी।
इसलिए लिया कंगना को ड्रॉप करने का फैसला…
-उन्होंने कहा कि इतना पैसा खर्च करने के बाद यह भी तय नहीं हो पा रहा था कि हिमाचल में सैलानियों की संख्या कितनी अधिक बढ़ जाएगी।
-डॉ. कत्याल ने कहा कि हिमाचल में प्रति वर्ष दो करोड़ के करीब सैलानी आ रहे हैं।
-ऐसे में बोर्ड का पक्ष है कि अगर कहीं पैसा खर्च किया ही जाना है तो नए पर्यटन स्थलों को विकसित करने के लिए खर्च करना चाहिए।
-इसलिए बोर्ड ने कंगना को ब्रांड एम्बेसडर बनाने के प्रस्ताव को ड्रॉप करने का फैसला लिया है।
इससे पूर्व क्या कहा था पर्यटन बोर्ड के अध्यक्ष ने…
– पर्यटन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष मेजर विजय सिंह मनकोटिया ने कहा कि वे कंगना को पत्र लिखकर व्यक्तिगत तौर पर माफी मांगेंगे।
– उन्होंने कहा कि हिमाचल के लिए ये शर्म की बात है।
– बाॅलीवुड फिल्म स्टार जिसे राष्ट्रपति सम्मानित कर चुके हैं वे ब्रांड एम्बेसडर बनने के लिए राजी है वो भी सरकार की टर्म एंड कंडिशन पर।

Check Also

,क्या है अखिलेश यादव का ‘मिशन दक्षिण’,?

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadva) आज से कर्नाटक (Karnataka) …