गुरूजी बनने के लिए कंप्यूटर की भी जानकारी होनी आवश्यक

रांची: राज्य में शिक्षक बनने के लिए कंप्यूटर की भी जानकारी होनी आवश्यक है। अब अभ्यर्थियों को कंप्यूटर की भी परीक्षा देनी होगी। राज्य सरकार ने प्लस टू तथा हाई स्कूल में शिक्षकों की हो रही नियुक्ति में इसे अनिवार्य किया है।

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित होने वाली प्लस टू शिक्षक (स्नातकोत्तर प्रशिक्षित) नियुक्ति परीक्षा की पीटी में इसका प्रावधान किया गया है। पीटी में 450 अंकों के सामान्य ज्ञान के विषय से प्रश्न पूछे जाएंगे। कुल 150 प्रश्नों में बीस प्रश्न कंप्यूटर से जुड़े होंगे। इसी तरह इतने ही प्रश्न मानसिक क्षमता से जुड़े होंगे। प्रत्येक प्रश्न तीन अंकों के होंगे और प्रत्येक एक गलत प्रश्न पर एक अंक काटे जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि यह प्रतियोगिता परीक्षा तीन विषयों इतिहास, भौतिकी तथा रसायन विज्ञान विषय में शिक्षक नियुक्ति के लिए ली जा रही है।

 

कट ऑफ डेट के कारण वंचित हो रहे सैंकड़ों अभ्यर्थी

प्लस टू स्कूलों में तीन विषयों में हो रही शिक्षक नियुक्ति के लिए आयोजित हो रही प्रतियोगिता परीक्षा में शामिल होने से सैकड़ों अभ्यर्थी वंचित हो रहे हैं। आयु सीमा की गणना को लेकर कट आफ डेट 1 जनवरी 2016 निर्धारित होने के कारण अधिक आयु सीमा होने से ये परीक्षा में शामिल होने से वंचित हो रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि अन्य विषयों में नियुक्ति वर्ष 2012 में हुई थी, जिसमें कट आफ डेट 2012 रखा गया था। उस समय इन तीनों विषयों में नियुक्ति नहीं हुई थी। इधर, इन तीन विषयों में नियुक्ति शुरू होने को लेकर अभ्यर्थी चार साल तक इंतजार करते रहे। अभ्यर्थियों का कहना है कि सरकार की लेटलतीफी के कारण वे परीक्षा में शामिल होने से वंचित हो रहे हैं। इसमें उनका कोई दोष नहीं है।

Check Also

बारिश

चक्रवाती तूफान यास से मची तबाही, भारी बारिश से आई बाढ़, बिगड़ गए हालात

रांची: चक्रवाती तूफान यास ने कई राज्यों में तबाही मचा चूका है, वहीं यास ने …