खौफनाक हादसा: पांच मिनट में पांच मौत से मचा कोहराम!

मेरठ. शराब के नशे में चालक ने बीती आधी रात के बाद तेज रफ्तार से ट्रक चलाते हुए एक के बाद एक पांच लोगों को उड़ा दिया, जिनकी मौके पर ही मौत हो गई। किलर ट्रक बाइक सवारों को उड़ाने के बाद डीसीएम से टकरा कर घर के अंदर घुस गया, जिसमें चालक भी गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद अफरा-तफरी मच गई। सभी मृतक बागपत के बालैनी के रहने वाले हैं। देर रात सभी के परिजन मौके पर पहुंचे। दिल को दहला देने वाला हादसा जानी थाना क्षेत्र के बागपत रोड स्थित रघुनाथपुर गांव में हुआ।
बागपत के बालैनी निवासी मोहम्मद आलम की पत्नी खातून बाइक पर अपने बेटे आसिफ के पीछे बैठी थी, इसी बाइक पर पीछे देवरानी समीना पत्नी इकबाल भी सवार थी। दूसरी बाइक खातून का दामाद अय्यूब निवासी रोशनगढ़ चला रहा था। अय्यूब के पीछे आबिदा पत्नी गुलजार सवार थी। दोनों बाइक पर सवार तीन महिलाओं समेत पांच लोग कंकरखेड़ा के लाला मोहम्मदपुर में रिश्तेदार का अंतिम संस्कार कराकर वापस लौट रहे थे। रघुनाथपुर के पास बागपत की ओर से आ रहा 18 टायरा ट्रक बेकाबू होकर पहले कैंटर से टकराया। उसके बाद दोनों बाइक सवारों को कुचलता हुआ आगे बढ़ गया। बाइक के पीछे चल रही डीसीएम में टकराते हुए इकबाल के घर में जा घुसा। ट्रक का चालक नरेंद्र पुत्र राजेंद्र निवासी पानीपत है, जो हादसे में घायल हुआ है। नरेंद्र ने ज्यादा शराब पी रखी थी। नरेंद्र को पुलिस की मदद से 108 एंबुलेंस से जिला अस्पताल में भर्ती कराया। साथ ही पांच लोगों की मौत के बाद परिवार को मामले की जानकारी दी गई। परिवार के लोगों के पहुंचने के बाद सभी के शव को उठाकर मोर्चरी में रखवा दिया है।

मरने वालों में आसिफ की उम्र 19 साल है, जबकि बाकी सभी उम्रदराज हैं। पांच मिनट में पांच मौत से मचा कोहराम पांच मिनट में पांच लोगों को मौत की नींद सुलाने के बाद बेकाबू ट्रक घर के अंदर घुसकर दीवार से टकराकर ही रुका। यदि ट्रक घर के अंदर नहीं घुसता तो ओर भी वाहनों से टकराता। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि ट्रक काफी दूर से सड़क के कभी इस किनारे तो कभी उस किनारे पर जा रहा था। ट्रक ने पहले तो कैंटर को टक्कर मारी, हादसे को देखकर दोनों बाइक सवार साइड से बचाने की कोशिश कर रहे थे। तभी ट्रक भी कैंटर को टक्कर मारने के बाद उसी साइड से नीचे आ गया।बाइक सवारों के ऊपर उतरने के बाद ट्रक बाइक के पीछे चल रही डीसीएम से टकराया। उसके बाद भी ट्रक नहीं रुका और एक मकान के अंदर घुस गया। संयोग मकान के अंदर उस समय कोई नहीं था। वरना मरने वालों की संख्या ओर बढ़ जाती। सड़क से लेकर मोर्चरी तक पीछे दौड़े परिजन परिवार के पांच सदस्यों की मौत के बाद परिवार के लोग बालैनी से घटना स्थल पर दौड़ते रहे, जिसे भी घटना की जानकारी मिली, वहीं मौके पर पहुंचा। शवों के मोर्चरी पर पहुंचने के बाद भी परिवार के लोग पहुंचे। हादसे के बाद जानी पुलिस की टीम ने सभी वाहनों को कब्जे में ले लिया है।

Check Also

जानिए यूपी में कब होगा तापमान शून्‍य से भी नीचे

यूपी में कडकडाती ठण्ड लगातार जारी है साम होते ही कोहरे का कहर जारी है. …