घर में कैद कर गए बहू-बेटे बूढ़ी मां को

 बेटा बड़ा होकर बूढ़े मां-बाप की लाठी का सहारा बनता है। मां-बाप की हर छोटी-छोटी से ख्वाहिश पूरी करने में वह कोई कोर कसर नहीं छोड़ता। लेकिन इस कलयुग में खुल्दाबाद क्षेत्र में एक घर ऐसा भी है जहां बहू-बेटे ने अपनी ही बूढ़ी मां 6 दिन पूर्व घर में बिस्कुट के सहारे कैद कर बिहार चले गए। सोमवार को बुजुर्ग की चीख पुकार सुनकर मोहल्लेवालों की भीड़ जुट गई। सूचना पाकर खुल्दाबाद पुलिस भी पहुंची और ताला तोड़कर बुजुर्ग महिला को बाहर निकाला और खाना खिलाया। बहू-बेटे की करतूत से हर कोई हतप्रभ है और उनमें आक्रोश भी भरा है।

हिम्मतगंज निवासी विनय कश्यप परिवार संग रहते है। वह इस समय घर में ताला बंदकर छठ पूजा के लिए पत्नी पुष्पा कश्यप के साथ बिहार गए है। दोपहर उनके घर से जोर-जोर से आवाजे आने लगी। आस पड़ोस के रहने वालों की भीड़ लग गई। पूर्व पार्षद वीरेन्द्र सोनकर भी पहुंचे और इंस्पेक्टर खुल्दाबाद केके यादव को सूचना दी। इंस्पेक्टर ने अटाला चौकी प्रभारी अबरार अंसारी को मौके भेजा। इंस्पेक्टर ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि बुजुर्ग महिला को घर में बंद किया गया था। चौकी प्रभारी ने ताला तोड़कर उन्हें बाहर निकाला और खाना खिलाया। पुष्पा देवी से मोबाइल पर बात हुई तो उन्होंने बताया कि वह तीन दिन पूर्व ही छठ पूजा पर बिहार गई है। उन्होंने अपनी सास के लिए खाना भी रख दिया था। वह ट्रेन से लौट रही है। चौकी प्रभारी ने बताया कि पूर्व पार्षद की देखरेख में बुजुर्ग महिला को रखा गया है। बेटे-बहू के आने के बाद पूछताछ की जाएगी।

घर से आती है चीख पुकार
मोहल्लेवालों ने बताया कि अक्सर उनके घर से मारपीट व चीखपुकार की आवाजे आती है। 6 दिन पूर्व वह लोग बिहार गए और पास ही एक गुमटी से बिस्कुट का पैकेट और कुछ खाना बूढ़ी मां को दे गए थे। जब पुलिस ने दरवाजा तोड़ा गया तो कमरे से बदबू आ रही थी। चलने में असहाय बुजुर्ग महिला फर्श पर ही शौच करती है। पड़ोसियों ने बताया कि बहू-बेटे से मोबाइल पर पुलिस से बात हुई तो उन्होंने बताया कि वह सुबह आएंगे।

पेंशनर है बुजुर्ग महिला
मोहल्ले वालों का कहना है कि विनय कश्यप करीब तीन माह पूर्व यहां आए है। पहले वह किसी रेलवे कालोनी में रहते थे। उनका आसपड़ोस से किसी से कोई संबंध नहीं है। ऐसा लगता है कि वह रेलवे में नौकरी करते है। उनके बच्चे भी कहीं बाहर रहते है। अभी सब दिवाली पर इकठ्ठा हुए थे। विनय कश्यप की मां पेंशनर भी है।

खुल्दाबाद पुलिस ने ताला तोड़कर बुजुर्ग महिला को बाहर निकाला है। वह चाहेगी तो उनकी बहू व बेटे के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Check Also

जानिए यूपी में कब होगा तापमान शून्‍य से भी नीचे

यूपी में कडकडाती ठण्ड लगातार जारी है साम होते ही कोहरे का कहर जारी है. …