चीन : दलाई लामा की अरुणाचल यात्रा से आएगा भारत के साथ रिश्तों में तनाव

बीजिंग, प्रेट्र। चीन ने तिब्बत के अध्यात्मिक नेता दलाई लामा की प्रस्तावित अरुणाचल प्रदेश यात्रा पर आपत्ति जताई है। चीन ने शुक्रवार को कहा कि इस यात्रा से सीमावर्ती इलाकों में शांति और स्थायित्व को नुकसान पहुंचेगा। इसके साथ ही भारत के साथ हमारे रिश्ते में भी तनाव आएगा।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कांग ने कहा कि भारत और चीन के बीच विवादित क्षेत्र में दलाई लामा को आमंत्रित करना उचित नहीं है। इससे सीमावर्ती इलाके में शांति और स्थायित्व को नुकसान पहुंचेगा और भारत-चीन द्विपक्षीय रिश्ता भी खराब होगा।

अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने दलाई लामा को आमंत्रित किया है। वह अगले वर्ष के शुरू में राज्य की यात्रा पर जाएंगे। केंद्र सरकार ने उनकी यात्रा को हरी झंडी दे दी है। इसे देखते हुए चीन ने अपनी आपत्ति जताई है।

चीन का दावा है अरुणाचल प्रदेश दक्षिणी तिब्बत का हिस्सा है। वह भारतीय नेताओं, विदेशी अधिकारियों के साथ ही साथ दलाई लामा के अरुणाचल दौरे पर आपत्ति जताता रहा है।

पिछले सप्ताह बीजिंग ने अमेरिका के राजदूत रिचर्ड वर्मा के तवांग दौरे पर भी आपत्ति जताई थी। वर्मा 22 अक्टूबर को तवांग गए थे। चीन ने कहा था कि राजदूत ने विवादित क्षेत्र का दौरा किया है। दलाई लामा भी तवांग स्थित बौद्ध विहार जाएंगे।

Check Also

देश में दुर्लभ प्रजाति का सफेद गिद्ध कानपुर में मिला, लोग हैरान

देश में गिद्ध विलुप्त श्रेणी में आ गए हैं, सरकार इनके संरक्षण के लिए कई …