जय गुरुदेव के कार्यक्रम में मची भगदड़, 23 की मौत, 50 घायल

डोमरी गांव स्थित गंगा किनारे लगने वाला जय गुरुदेव का दो दिवसीय जागरूकता शिविर में शनिवार को भगदड़ मच गई। इस घटना में 23 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। वहीं, 50 लोग घायल हैं।

जिलाधिकारी कुमार प्रशान्त ने बताया कि चंदौली जिले में गंगा के किनारे डोमरी गांव में बाबा जयगुरदेव की याद में आयोजित दो दिवसीय जागरूकता शिविर में आये बड़ी संख्या में श्रद्धालु वाराणसी स्थित पीली कोठी से होते हुए डोमरी गांव जा रहे थे। रास्ते में राजघाट पुल पर अचानक भगदड़ मच गयी।

बता दें कि 1996 की 09, 10 व 11 फरवरी को डोमरी गांव के गंगा किनारे लगे शिविर में बाबा जयगुरुदेव अपने भक्तों से मुखातिब हुए थे। उस समय करीब 20 लाख अनुयायी गंगा रेती पर जमा हुए थे।

15 अक्तूबर से दो दिवसीय जयगुरुदेव आध्यात्मिक सत्संग महामानव संगन कार्यक्रम में यूपी, पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल सहित कई प्रांतों के अनुयायी बीते कई दिनों से गंगा रेती पर अपना डेरा जमाये हुए है।

प्रधान मंत्री ने जताया दुख 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुआवजे का ऐलान किया है। मृतकों को दो-दो लाख व घायलों को पचास हजार रुपये देने की घोषणा की है। इसके अलावा सीएम अखिलेश यादव ने मृतकों के परिवार को 2-2 लाख मुआवजा देने और घायलों का फ्री इलाज कराने की घोषणा की है। वहीं, घायलों को भी 50-50 हजार रुपये देने की घोषणा की गई है।

varanasi-stampede-21476528103_bigएडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत सिंह चौधरी ने कहा, ‘भगदड़ की उच्च स्तरीय जांच कराई जाएगी। कार्यक्रम में आयोजकों ने अनुमति से अधिक भीड़ जुटाई थी।

 

Check Also

जानिए यूपी में कब होगा तापमान शून्‍य से भी नीचे

यूपी में कडकडाती ठण्ड लगातार जारी है साम होते ही कोहरे का कहर जारी है. …