जेडीयू, लोकदल और बीएस-4 का गठबंधन, मुलायम-लालू बाहरयूपी विधानसभा चुनाव

लखनऊ.यूपी विधानसभा चुनावों में ज्यादा से ज्यादा सीटेेंं पाने के लिए जेडीयू, राष्ट्रीय लोकदल और बीएस-4 का गठबंधन हो गया है। इस गठबंधन से सपा और बसपा दोनों ही पार्टियों को दूर रखा गया है। इस गठबंधन की औपचारिक घोषणा सोमवार राष्ट्रीय लोकदल के कार्यालय पर की जाएगी।
– जेडीयू महासचिव केसी त्यागी ने बताया कि मुलायम सिंह से बातचीत का अध्याय अब समाप्त हो चुका है, उस पर बात करने का कोई मतलब नहीं है।
– मुलायम सिंह यादव बड़े हैं, नेता जी राजा हैं हम सब प्रजा। गठबंधन मे हमारे सहयोगी व हमारी विचार धारा वाले सभी नेता आ रहे हैं।
– सभी पार्टियों के साथ बातचीत में हर पार्टी के संगठन और विनिंग कैपेसिटी पर सीटें दी जाएंगी।
– अभी क्षेत्रीय स्थिति के अनुसार सीटों पर बात हुई लेकिन पूरी तरह से सीटों पर को लेकर घोषणा सोमवार को होगी।
– जेडीयू के सांसद शरद यादव, महासचिव केसी त्यागी, और प्रदेश अध्यक्ष निरंजन भैया के साथ बीएस4 के आरके चैधरी, आरएलडी के अजीत सिंह औपचारिक घोषणा करेंगे।
मुलायम-लालू बाहर, रजत जयंती पर बने थे शामिल होने के संकेत
– यूपी विधानसभा चुनावों में हो रहे गठबंधन में मुलायम और लालू की पार्टी को बाहर रखा गया है। जबकि बसपा-कांग्रेस को छोड़कर अन्य सभी एक हो गए हैं।
– बिहार की तर्ज पर यूपी में भी महागठबंधन बनाकर सभी पार्टियां चुनाव लड़ने की योजना पर काम कर रही थी।
– 5 नवम्बर को समाजवादी पार्टी के रजत जयंती समारोह में महीनों से चल रही यूपी महागठबंधन पर पूरी साफ तस्वीर दिखाई पड़ी थी।
– जिसमें मुलायम सिंह यादव, केसी त्यागी, लालू प्रसाद यादव, एचडी देवगौड़ा समेत सभी समान विचार धारा वाले दल एक साथ मंच पर दिखे थे।
रजत जंयती के बाद मुलायम ने लिया यू टर्न
– 10 नवम्बर को किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन करने से साफ इंकार कर दिया और विलय कराने के अलावा किसी मुद्दे पर बात करने से इंकार कर दिया।
– माना जा रहा है कि सपा परिवार के आपसी खींचतान के कारण मुलायम सिंह यादव ने एक बार फिर से बिहार की तर्ज पर यू टर्न लेते हुए गठबंधन से मना किया था।
– क्याेंकि परिवार में शिवपाल यादव गठबंधन के पक्ष मे था जबकि अखिलेश यादव विलय के सिवा किसी मुद्दे पर बात नहीं करना चाहते थे।

Check Also

अखिलेश और शिवपाल के नजदीक होने से प्रसपा नेता बैचेन

यह समाजवादी पार्टी के उस समय के दृश्य हैं,जब पूरा परिवार “मुखिया मुलायम सिंह यादव” …