डांस गर्ल को लेकर हुई मार पीट,एक की मौत

रांची. रांची  के एक होटल में गुरुवार देर रात एक इंजीनियर की बैचलर पार्टी में दौरान कुछ युवकों के बीच हुई मारपीट में मुकेश पांडेय नामक युवक की मौत हो गई. दोस्त इसे डांस के दौरान विवाद का नतीजा बता रहे हैं तो परिजन साजिश के तहत हत्या करार दे रहे हैं.

मृतक गढ़वा का रहनेवाला मुकेश पांडेय पहले एक मोबाइल कंपनी मे काम करता था. नौकरी छोड़ने के बाद इवेंट मैनेजमेंट का काम देखने लगा. दस नवंबर को दोस्त शोभित सेन के साथ रजरप्पा गया. माता के दर्शन के बाद वापस आया और शोभित के साथ रातू रोड स्थित अर्स अस्पताल में ठहरा. कुछ देर बाद एक अन्य दोस्त हरमू निवासी मर्जेंट नेवी में इंजीनियर मिथलेश कुमार यादव की बैचलर पार्टी में शरीक होने कचहरी चौके स्थित राज रेसिडेंसी होटल पहुंचा. पार्टी में तीन डांसर भी थी. पांडेय बेल्ट घुमा घुमा कर डांस कर रहा था. रोकने पर उसने डा मुकेश को धक्का दिया. डॉक्टर ने उसे तमाचा मार दिया जिसका जवाब पांडेय ने भी दिया. इसके बाद डॉक्टर के दोस्त डॉ सचिन, डॉ अरुण, बब्बन समेत करीब दर्जन भर लोग पांडेय पर टूट पड़े. पांडेय के दोस्त शोभित सेन ने बताया कि मारपीट से बेहोश पांडेय को एक तरफ लिटा कर पार्टी फिर शुरू की गई. जहां शराब के नशे मे डांस के दौरान जमकर मारपीट हुयी. संभवत: उसी वक्त मुकेश की मौत हो गयी थी. अचेत हालत में मुकेश को अर्स होटल लाया गया. बेशक शोभित ही अचेत अवस्था में मुकेश को अपने होटल ले गया और अगले दिन फिर सिटी अस्पताल.  शोभित के मुताबिक डांस के दौरान डॉ मुकेश,डॉ अरुण और डॉक्टर सचिन और कुछ अन्य उनके साथियों ने मुकेश के साथ मारपीट की. इस डांस में कुछ लड़कियों के होने की भी बात आ रही है. सभी नशे में थे.

पुलिस शोभित के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान शुरु कर दी है. लेकिन शोभित पर भी पुलिस को आशंका है. कोतवाली थाना के सब इंस्पेक्टर विश्राम उरांव कहते हैं कि प्लानिंग के साथ हत्या का मामला मालूम होता है.कोतवाली थाना प्रभारी विजय कुमार भी कहते हैं कि दुश्मनी का मामला मालूम होता है. इस घटना में मुकेश के कई दोस्त सवालों के घेरे में हैं. पुलिस को इन दोस्तों के इस प्रकरण में होने की आशंका है. दूसरी तरफ यह साफ हो गया है कि राजधानी के होटलों में शराब के साथ साथ वो सबकुछ परोसा जा रहा है जो अबतक बड़े मेट्रो शहरों की संस्कृति रही है. अब देखना है मुकेश की संदिग्ध मौत की गुत्थी सुलझाने मे पुलिस को कितना वक्त लगता है.

शोभित के बयान पर ये हैं सवाल….

  • जब राज रेसिडेंसी मे मुकेश अचेत हो गया तो उसे अस्पताल के बजाय दूसरे होटल क्यों ले जाया गया?
  • बेहोशी की अवस्था में ही होटल मे क्यों छोड़ दिया गया?
  • पूरी रात होटल अर्स मे छोड़ने के बाद दूसरे दिन मौत के बाद अस्पताल क्यों?
  • वह भी उसी अस्पताल में ले जाया गया जहां के चिकित्सकों से मारपीट हुई थी.
  • पुलिस को सूचना देने में इतनी देर क्यों हुई.

 

Check Also

इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आयी ,17 लोगो ने मिल किया ये घिनौना काम

झारखंड:जैसे जैसे हम प्रगति के तरफ तेज़ी से बढ़ रहे है।वैसे ही कही न कही …