डिप्टी सीएम पद के साथ ही सिद्धू मांग रहे थे 40 सीटें

चंडीगढ़।नवजोत सिंह सिद्धू की आम आदमी पार्टी से अलायंस की बात एक बार फिर टूट गई है। सिद्धू ने इस अलायंस के लिए आप हाईकमान के सामने जो शर्तें रखीं वे पार्टी नेताओं को मंजूर न होने से बात सिरे नहीं चढ़ सकी। अब सिद्धू की आप से अलायंस की संभावना पूरी तरह खत्म हो गई है। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने पुिष्ट की है। हालांकि, अभी सिद्धू की कांग्रेस से बातचीत जारी है।
अब सिद्धू के सामने कांग्रेस ही विकल्प है। गौतलब है कि सिद्धू और परगट सिंह की लंबे समय से केजरी से मीिटंग्स हो रही थीं। इसका कारण यही रहा कि सिद्धू ने डिप्टी सीएम समेत जो शर्तें रखीं, वो आप को मंजूर नहीं थीं। पार्टी के खरड़ से उम्मीदवार कंवर संधू का कहना है कि सिद्धू और परगट की आप से 7-8 मीिटंग्स हो चुकी हैं।
सिद्धू ने ये रखी थीं शर्तें
{ सिद्धू को पंजाब के डिप्टी सीएम की पोस्ट देना। {आवाज-ए-पंजाब मोर्चे को 40 सीटें देना।
{चुनाव जीतने के बाद मोर्चे से जीते चार एमएलए को कैबिनेट मंत्री का दर्जा देना।
{ बोर्डों, कॉर्पोरेशंस में समर्थकों को चेयरमैन की 6 पोस्टें देना।
शर्तों पर अलायंस नहीं : जरनैल
आम आदमी पार्टी के पंजाब मामलों के को-कन्वीनर जरनैल सिंह ने कहा, आप सिद्धांतों की पार्टी है। हम शर्तों के आधार पर किसी से अलायंस नहीं कर सकते। पार्टी में जिसको आना है, वो अपनी मर्जी से आए। यही पार्टी का सिद्धांत है। सिद्धू ही नहीं, चाहे कोई भी हो, अगर वह पार्टी में आना चाहता है तो उन्हें पार्टी के सिद्धांत अपनाने होंगे।

Check Also

आखिर क्यों बरसे भाजपा पर खड़गे ?

राहुल गांधी , गांधी परिवार के चौथे नेता के रूप में पठानकोट में जनसभा करने …