माघ मेले की तैयारी धीमी, डीएम ने उठाये सख्त कदम

इलाहाबाद: तीस तारीख बीत गई मगर महावीर मार्ग का पांटून पुल बनकर तैयार नहीं हुआ। आलोपीबाग ब्रिज पर लगी लाइटें और अन्न क्षेत्र का हाईमास्ट डीएम के बार-बार के निर्देश के बावजूद ठीक नहीं हुआ। उस पर तुर्रा यह कि भरी बैठक में नगर निगम के जेई ने यह काम कराने में असमर्थता जता दी। इस पर जिलाधिकारी के तेवर इस कदर सख्त हुए कि सारे अफसर सहम गए। उन्होंने पुलिस से तत्काल जेई को गिरफ्तार करने के लिए कहा, हालांकि बाद में माफी मांगने पर 24 घंटे की मोहलत दे दी।

 

जिलाधिकारी संजय कुमार ने माघ मेला के अस्थायी कार्यालय में व्यवस्था से जुड़े विभागों की बैठक ली। बैठक में नगर निगम के जेई पर सख्ती दिखाने के साथ ही नगर निगम अफसरों को चेतावनी दी कि मेला क्षेत्र में कहीं भी सुअर और आवारा जानवर नजर नहीं आने चाहिए। डेडलाइन बीत जाने के बावजूद पहला पांटून पुल न बनने और लोनिवि की लापरवाही से अन्य कार्य प्रभावित होने पर डीएम ने अधीक्षण अभियंता डॉ. हंसराज को भी फटकार लगाई। कहा कि चार दिन में महावीर पुल और 20 दिसंबर तक पांचों पुल बन जाएं। वे खुद मेला क्षेत्र में भ्रमण करें, मेला कार्य में लापरवाही मिलने पर उनके खिलाफ मुख्य अभियंता को शिकायती पत्र भेजा जाएगा।

डीएम ने जल निगम को सड़क बनने से पहले पाइप लाइनें बिछाने और अनावश्यक पाइपों को हटाने के निर्देश दिए। बाढ़ प्रखण्ड को क्रेट्स लगाकर कटान रोकने को कहा। उन्होंने पीसीबी अफसरों को नमामि गंगे के तहत माघ मेला की डाक्यूमेंट्री बनवाने तथा मेला क्षेत्र में एलईडी लगाकर विभिन्न कार्यक्रम लाइव दिखाने के निर्देश दिए। बैठक में जल निगम, स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम से कहा कि मेले में साफ सफाई और पॉलीथिन फ्री किया जाए। गुटखा भी पूरी तरह से प्रतिबंधित रहे। जीरो डिस्चार्ज टायलेट और संगम नोज पर चार चेंजिंग रूम बनाने के लिए भी उन्होंने निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि हर हाल में 31 दिसंबर से पहले सारे काम पूरे हो जाने चाहिए। इस काम में जो भी लापरवाही करता पाया गया उसके विरुद्ध कार्यवाही निश्चित है। बैठक में एडीएम सिटी पुनीत शुक्ला, मेलाधिकारी आशीष मिश्रा, उप नगर आयुक्त सुमित कुमार समेत सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

आज कमिश्नर करेंगे बैठक

मेले की तैयारियों को गति देने के लिए शुक्रवार को मंडलायुक्त राजन शुक्ला भी संबंधित विभागों व मेला प्रशासन के साथ बैठक करेंगे। यह बैठक मेले के अस्थायी कार्यालय में सुबह दस बजे होगी।

Check Also

जयंत ने बीजेपी को दिया, जोर का झटका धीरे से !

2024 के लोकसभा चुनाव से पहले,राष्ट्रीय राजनीति में मानो एक सैलाब सा ला दिया हो …