सादे वेश में नजर रख रही पुलिस, तलाश रहे आतंकियों के निशान

देहरादून:  नाभा जेल ब्रेक कांड के आरोपियों का सुराग लगाने को पुलिस वे सभी प्रयास कर रही है, जिससे उनके बारे में थोड़ी-सी भी जानकारी मिलने की उम्मीद हो। इसी कड़ी में पंजाब से उत्तराखंड के रास्ते उत्तर प्रदेश और दिल्ली जाने वाले प्रमुख हाईवे पर लगे विभिन्न टेलीकॉम कंपनियों के बीटीएस की कॉल हिस्ट्री भी चेक की जा रही है।

पुलिस को उम्मीद है कि इस दरमियान आरोपियों ने जरूर किसी न किसी को कॉल होगी। अगर यह कॉल ट्रेस हो गई तो संभव है कि अन्य आरोपियों का सुराग लग जाए। हालांकि, यह काम घास में सूई तलाशने जैसा है। ऐसे में पुलिस उन नंबरों पर खास फोकस करेगी, जो जेल ब्रेक के कुछ घंटे बाद क्रियाशील रहे और फिर बंद हो गए।
नाभा जेल ब्रेक के लिए आतंकियों द्वारा तैयार रोडमैप में उत्तराखंड का देहरादून अहम कड़ी रहा है। इस आतंकी वारदात के मास्टरमाइंड पेमा के खास गुर्गे सुनील कालरा और शामली में पकड़े गए परमिंदर उर्फ पेंदा का ठिकाना देहरादून में ही होने से इस बात की पुष्टि भी हो चुकी है। वहीं, हरिद्वार के मंगलौर में पंजाब पुलिस की वर्दी मिलने के बाद यह भी तकरीबन निश्चित हो गया है कि जेल से फरार होने के बाद आतंकी उत्तराखंड पहुंचे और फिर यहां से उत्तर प्रदेश या दिल्ली चले गए।

इतने तथ्यों के प्रकाश में आने के बाद भी पुलिस और खुफिया एजेंसियां शामली से गिरफ्तार परमिंदर (पेंदा) और दिल्ली से गिरफ्तार खालिस्तानी आतंकी हरमिंदर के अलावा अन्य किसी आरोपी का पता नहीं लगा सकी हैं। सूत्रों की मानें तो इस राह में हर दांव फेल होने के बाद अब पंजाब से उत्तर प्रदेश और दिल्ली वाया उत्तराखंड जाने वाले सभी मार्गों पर लगे विभिन्न दूरसंचार कंपनियों के बीटीएस पर दर्ज कॉल डिटेल जुटाई जा रही हैं।
सादे वेश में नजर रख रही पुलिस
सुनील कालरा के रायपुर थाना क्षेत्र स्थित अमन विहार व परमिंदर के डांडा लखौंड स्थित आवास पर पुलिस नजरें गड़ाए हुए है। यहां सादे वेश में पुलिस कर्मी लगातार नजर रखे हुए हैं।
सर्विलांस और खुफिया इकाइयों से भी जानकारी ली जा रही
देहरादून की एसएसपी स्वीटी अग्रवाल का कहना है कि नाभा जेल ब्रेक कांड में दून से पकड़े गए संदिग्धों व अन्य के बारे में फीडबैक लिया जा रहा है। सपूंर्ण तथ्यों का अध्ययन करने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। सर्विलांस और खुफिया इकाइयों से भी जानकारी ली जा रही है।

Check Also

रूम हीटर के नुकसान

पूरे उत्तर भारत में सर्दी का आलम बना हुआ है। ऐसे में कई लोग अलाव …