पति था कंगाल,पत्नी मालामाल

एक ओर तमाम पति मोदी के फैसले की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। वहीं उनकी पत्नियां मोदी को कोसने में जुटी हैं। दोनों की वजह अलग-अलग हैं।

पर जब पत्नियों ने घर खर्च के बजट से बचत के लाखों रुपये निकाले तो इन्हीं पतियों के होश उड़ गए। अब वह अपनी पत्नी की बचत को खाते में जमा करने की जुगत में लग गए हैं।

ऐसा ही एक रोचक वाकया सामने आया एक शख्स के साथ। उसने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि शाम को टीवी के सामने बैठकर चाय की चुस्कियां लेते हुए काले धन पर मोदी की सर्जिकल स्ट्राइक की खबर सुनकर मन ही मन काला धन रखने वालों की स्थिति पर मुस्कुरा रहा था। सोच रहा था कि अच्छा हुआ उसके पास बड़ी रकम नहीं है। अगर होती तो इस आदेश के बाद उसे एडजस्ट करने में पसीने छूट जाते। तभी उनकी पत्नी उनके पास आकर बोली, ‘सुनो जी’, ‘अरे सुनते हो।’ उसकी ओर बिना देखे पूछा बोलो जवाब मिला प्लीज कुछ नोट एक्सचेंज करवा लो।

लगा कि छोटी मोटी रकम होगी लिहाजा पूछा, कितना पैसा है? पत्नी का जवाब सुनकर होश ही उड़ गए। पत्नी ने हर महीने घर खर्च के नाम पर बीस हजार रुपये में से थोड़ी-थोड़ी रकम करके साढ़े आठ लाख रुपया जोड़ रखा था। पहले तो गुस्सा आया, फिर चिंता बढ़ गई कि इतनी बचत को अब एडजस्ट कैसे करेंगे।

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद ऐसे तमाम मामले सामने आ रहे हैं, जहां पत्नियों ने लाखों रुपये घर की बचत से बचाकर रखे हुए हैं। हालांकि सरकार ने ऐसी महिलाओं को 2.50 लाख रुपये तक अपने खाते में जमा करने की छूट दे दी है।

सरकार के एक फैसले ने तमाम घरों और गृहिणियों को बड़ी राहत दी। गृहिणियों को अपने नाम से खाता खुलवाकर उसमें 2.50 लाख रुपये तक की बचत संजोकर रखने की छूट दे दी गई है।

लिहाजा, बड़ी संख्या में महिलाएं बृहस्पतिवार को बैंकों में अकाउंट खुलवाने पहुंची। पीएनबी के मंडल प्रबंधक अनिल कुमार खोसला ने बताया कि बड़ी संख्या में महिलाओं ने अपने खाते खुलवाए और उसमें पैसा जमा कराया। इससे निश्चित तौर पर महिलाओं और तमाम परिवारों को बड़ी राहत मिली है।

Check Also

लड़कों को अक्सर इन पांच खूबियों के कारण भा जाती है शादीशुदा लड़कियां

कई बार देखा जाता है कि लड़कों को शादीशुदा लड़कियां ज्यादा पसंद आती है। उनकी …