पथ निर्माण सचिव ने बदला अपना रास्ता, होगी विभागीय करवाई

 बोरियो.   बोरियो-बरहेट मुख्य पथ पर तेलो गांव के पास सड़क दुघर्टना में घायल बच्चे की मौत के बाद उग्र ग्रामीणों द्वारा गुरुवार की सुबह सड़क जाम में पथ निर्माण विभाग के सचिव मस्तराम मीणा की गाड़ी भी फंस गई। मीणा गोविंदपुर-साहिबगंज सड़क एवं जिले में चल रहे अन्य सड़क निर्माण का जायजा लेने बरहेट जा रहे थे।
सचिव के जाम में फंसने की जानकारी मिलने के बाद बोरियो बीडीओ आशीष मंडल, सीओ प्रतिमा कुमारी एवं थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ जाम स्थल पर पहुंचे। वहां प्रमुख मंडल मरांडी, जिला परिषद सदस्य वरण किस्कू की मौजूदगी में परिजनों से वार्ता की। जाम स्थल से निकलने देने की आरजू मिन्नत करने के बावजूद जब ग्रामीण नहीं माने तो सचिव को वापस लौटना पड़ा। वहां से उन्हें खैरवा सड़क मार्ग से बरहेट होते हुए दुमका निकलना पड़ा। जाम स्थल पर काफी संख्या में महिला-पुरुष मौजूद थे।

 

आइएएस मस्तराम मीणा के खिलाफ होगी विभागीय कार्यवाही

 

 

रांची.  भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी मस्तराम मीणा पर विभागीय कार्यवाही होगी। राज्य सरकार ने इसके लिए प्रक्रिया शुरू करने का आदेश दिया है। जल्द ही किसी वरीय अधिकारी को मीणा के खिलाफ विभागीय जांच अधिकारी नियुक्त किया जाएगा। देवघर रिकार्ड रूम में आग लगने के मामले में उनपर लापरवाही का आरोप लगाया गया है। उस वक्त वे वहां उपायुक्त थे। इस घटना में जमीन घोटाला से संबंधित कई महत्वपूर्ण कागजात जल गए थे। मामले की जांच कर रही केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआइ) ने कार्रवाई की अनुशंसा की थी, जिसे राज्य सरकार ने स्वीकार कर लिया है। मीणा फिलहाल पथ निर्माण विभाग में सचिव हैं।

Check Also

इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आयी ,17 लोगो ने मिल किया ये घिनौना काम

झारखंड:जैसे जैसे हम प्रगति के तरफ तेज़ी से बढ़ रहे है।वैसे ही कही न कही …