प्यार में बदल गई तलाकशुदा महिला की दोस्ती

भागलपुर.बिहार के भागलपुर जिले के नाथनगर के कजरैली के सिमरिया गांव के नन्हे के होश उस वक्त उड़ गए जब उसकी प्रेमिका गोद में बच्चा लिए उसके घर पहुंच गई। वह नन्हे के माता-पिता के सामने ही उससे शादी करने को कहने लगी। नन्हे ने घर आई प्रेमिका से शादी करने से इंकार कर दिया और उसके परिजन भी इसके लिए तैयार नहीं थे।
प्रेमी से शादी के लिए धरने पर बैठ गई प्रेमिका…
– प्रेमी द्वारा शादी से इंकार करने पर प्रेमिका हंगामा करने लगी।
– वह बार-बार अपने बच्चे की दुहाई देते हुए करती कि नन्हें ने उसे शादी कर अपनाने का वादा किया था।
– शादी का झांसा देकर उसने मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाए। अब वह कैसे अपने वादे से मुकर सकता है। इतना सब होने के बाद अब मैं कहां जाऊंगी।
– महिला के चिल्लाने और हंगामा करने से गांव के सैकड़ों लोग नन्हें के घर जमा हो गए।
– मंगलवार रात से शुरू हुआ यह हाई वोल्टेज ड्रामा बुधवार सुबह तक चला। रात में नन्हे के परिजनों में मारपीटकर महिला को भाग दिया।
– वह रात भर अपने रिश्तेदार के यहां रुकी और फिर बुधवार को प्रेमी के घर के बाहर धरने पर बैठ गई। प्रेमिका का उग्र रूप देख प्रेमी फरार हो गया।
– बुधवार को कजरैली थाना प्रभारी विजय कुमार मौके पर पहुंचे और महिला को समझाते हुए परिजनों को साथ लाकर आपस में बैठकर बात करने को कहा।
महिला ने पहले पति को दिया था तलाक
– महिला ने पुलिस को बताया कि वह खगड़िया की रहने वाली है। उसकी शादी कुछ साल पहले हुई थी।
– पति मानसिक रूप पीड़ित था, इसलिए उससे तलाक ले लिया। इसके बाद वह नवगछिया में अपने मौसी के घर पर रहने लगी।
– खरीदारी आदि के लिए वह भागलपुर आती-जाती थी तभी उसका सिमरिया के नन्हे से संपर्क हुआ। वह भागलपुर में कंप्यूटर चलाता है।
– नन्हे ने उसे अपनी बातों में फंसा लिया और दोस्ती कर ली। दोस्त के नाते वह नन्हे से अक्सर मिलती थी।
– कभी पार्क में तो कभी सिनेमा हॉल में, आए दिन होने वाली इस मुलाकात से जल्द ही दोस्ती प्यार में बदल गई।
– पहले पति से तलाक लेने के बाद मैं बेसहारा हो गई थी। मुझे किसी साथी की जरूरत थी। ऐसे में मैंने नन्हे पर भरोसा कर लिया।
– उसने शादी कर अपनाने का वादा किया और झांसा देकर कई बार मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाए।
– समय से साथ नन्हे बदल गया। वह मुझसे सिर्फ अपने मतलब के लिए मिलता और जब मैं शादी करने की बात करती तो टालमटोल करता।
– देखते ही देखते दो साल बीत गए, लेकिन नन्हे शादी के लिए तैयार नहीं हुआ। इससे तंग आकर मैं तीन दिन पहले भागलपुर आई।
– नन्हे को फोन किया तो वह मिलने आया और फिर शादी की बात की तो टालमटोल करने लगा।
– इसके बाद मैं नन्हे के घर पहुंच गई, लेकिन यहां उसके परिजनों ने मेरे साथ गलत व्यवहार किया।

Check Also

बिहार के बक्सर में होगा बुलेट ट्रेन का स्टॉपेज ,दिल्ली तक का सफर महज छह घंटे में होगा पूरा

बिहार से दिल्ली जाने के लिए भारतीय रेलवे एक बड़ी सौगात लोगों को देने वाली …