बिल्लियों साथ किया ऐसा अमानवीय बर्ताव महिला ने जान के हो जायेगे आप भी हेरान

मेलबर्न। पालतू जानवरों को कुछ लोग बड़े प्यार से रखते हैं, अपनी जान से भी ज्यादा उनकी परवाह करते हैं, लेकिन कुछ बड़े बेदर्दी होते हैं। जैसा कि ऑस्ट्रेलिया की यह 43 वर्षीय महिला। इनमें 14 बिल्लियों को मकान में बंद कर दिया। भूख की तड़प में बिल्लियां एक दूसरे को खा-खाकर मर गईं। हालांकि महिला को कोई बड़ी सजा नहीं दिया जाना भी चर्चा में है। कोर्ट के इस फैसले पर सवाल उठाए जा रहे हैं।

केस में द रॉयल सोसायटी ऑफ द प्रिवेंशन ऑफ क्रूअल्टी टू एनिमल्स (RSPCA) ने अहम भूमिका निभाई। महिला ने वूडविले वेस्ट स्थिति अपनी प्रॉपर्टी पर बिल्लियों को कैद किया था।

मामला पिछले साल सितंबर का है। जब तक पुलिस को जानकारी मिलती और वह मौके पर पहुंचती, तब तक 13 बिल्लियों की मौत हो चुकी थी और एक मात्र जिंदा बची बिल्ली की हालत बहुत खराब थी।

चीफ इंस्पेक्टर एंड्रीया लेविस के मुताबिक, बिल्लियों के मांस के टुकड़े यहां-वहां बिखरे थे और वहां की स्थिति बहुत खराब थी। इसके बाद महिला के खिलाफ पोर्ट एडिलेड मजिस्ट्रेट कोर्ट में केस दर्ज किया गया। जहां सुनवाई के बाद महिला से बॉन्ड भरवाया गया है कि वह 12 माह तक पशुओं के खिलाफ अच्छा बर्ताव करेगी। हालांकि अब वह जीवन में कभी पालतू पशु नहीं रख पाएगी।

यह कैसा न्याय

कोर्ट ने इसे महिला की मानसिक बीमारी बताया। उसे दो हफ्ते जरूर सलाखों के पीछे गुजारने पड़े, लेकिन यह सजा कोर्ट के नोटिस के बावजूद सुनवाई पर नहीं पहुंचने के लिए दी गई थी। पुलिस के मुताबिक, जिंदा बची एक मात्र बिल्ली अब ठीक है। उसका नाम ट्रूपर है।

Check Also

बोनी ग्रेबियल को मिला मिस यूनिवर्स का खिताब

मिस यूनिवर्स का खिताब हर लड़की का सपना होता है इस इस खिताब को पाने …