बिल्ली ने की एक बच्ची की हत्या

कानपुर- चकेरी के शिवकटरा इलाके में बिल्ली ने घर में सो रही सवा माह की बच्ची का गला दबाकर उसे मार डाला। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर मां पहुंची तो बिल्ली भाग गई। गंभीर हालत में बच्ची को हास्पिटल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
शिवकटरा हरिजन बस्ती निवासी धर्मपाल बिजली मिस्त्री हैं। परिवार में पत्नी शशि, चार साल का बेटा अंश, दो साल का बेटा अंकुर व सवा महीने की बेटी थी। अंश अपनी नानी के साथ रहता है। शशि ने बताया कि वह बेटी को अंदर चारपाई पर सुलाकर बाहर बेटे अंकुर के साथ बैठी थी। अचानक बच्ची के रोने की आवाज सुनकर वह अंदर गईं तो देखा कि बिल्ली बच्ची का गला मुंह में दबाए थी और उसके दोनों पंजे भी बच्ची के गले पर थे। यह देखकर उनकी चीख निकल गई। इस पर बिल्ली भाग गई। आसपास के लोग बच्ची को लहूलुहान हालत में पास के हास्पिटल ले गए, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए बगैर बच्ची का अंतिम संस्कार कर दिया।
बेटी की चाहत में हुए बेटे 
लोग जहां बेटों की चाहत में बेटियों को गर्भ में ही मार देते हैं वहीं शशि और धर्मपाल को हमेशा से ही बेटी की चाहत थी। इसके चलते उनके दो बेटे हो गए लेकिन बेटी की चाहत में शशि ने तीसरे बच्चे को जन्म दिया। आपरेशन से पैदा हुई बच्ची काफी बीमार थी, जिसके इलाज में धर्मपाल ने काफी कर्ज लेकर पैसा खर्च किया।
घटना के बाद शशि को ऐसा गहरा सदमा लगा कि वह बेटी के गम में रोते-रोते कई बार बेहोश हुई जिसे पड़ोसियों व इलाकाई लोगों ने संभाला।

 

Check Also

स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान पर बोले ओमप्रकाश राजभर

स्वामी प्रसाद मौर्य के रामचरितमानस पर बयान को लेकर सभी दलों में लगातार घमासान चल …