माँ से किया प्यार, बेटी को बनाया शिकार

पटना.  बहुचर्चित सिमरन हत्याकांड किसी जासूसी उपन्यास से कम रोचक नहीं है। शमीम अख्तर नाम का शख्श, जिसे पुलिस ने नेपाल के वीरगंज से हथियार समेत पकड़ा है वो चर्चित सिमरन कांड का मुख्य आरोपी है और वो सेक्स रैकेट चलाता था।

उसके सेक्स रैकेट को आयशा नाम की एक लड़की संचालित कर रही थी और पूछताछ में उसने जो खुलासे किए हैं वो चौंकाने वाले हैं। आयशा दिल्ली एनसीआर इलाके की रहने वाली है और वह अभी पटना के नारी निकेतन में रहती है। उत्तरप्रदेश के सहारनपुर के दीपांशु ने उसे शमीम के पास भेजा था। पुलिस ने आयशा को सिमरन मामले में मोतिहारी से गिरफ्तार किया है। इसके बाद उसे नारी निकेतन भेज दिया गया। आयशा ने पुलिस को दिये बयान में बताया कि शमीम ह्यूमन ट्रैफिकिंग रैकेट का माहिर सदस्य है।उसने सिमरन को सिलीगुड़ी में ही देह व्यापार के दलदल में धकेला था। उस समय सिमरन की उम्र 10 साल थी।

आयशा ने पुलिस को दिये बयाने में कहा है कि वह दिल्ली एनसीआर इलाके से भाग कर सहारनपुर पहुंची। वहां उसकी मुलाकात दीपांशु से हुई। उसने आयशा का पहले शारीरिक शोषण किया, इसके बाद नयी लड़कियों को फंसाने का काम सौंप दिया। वह अब तक 50 से अधिक स्कूली छात्राओं को दीपांशु के सेक्स रैकेट के दलदल में फंसा चुकी है। दीपांशु ने ही उसे घर से भटकी हुई लड़कियों को फंसाकर शमीम के हवाले करने के लिए मोतिहारी भेजा था।शमीम की गिरफ्तारी के बाद आयशा एक बार फिर पुलिस जांच की महत्वपूर्ण कड़ी बन गयी है।

क्या है सिमरन की कहानीः-

सिमरन की मां खुशबू और शमीम की मुलाकात सीतामढ़ी जेल में हुई थी। मुलाकात के दौरान दोनों एक दूसरे से प्यार करने और जेल से बाहर निकलने के बाद शमीम ने खुशबू को शादी का प्रस्ताव दिया और पति और बेटे की हत्या के बाद खुशबू दस साल की सिमरन को लेकर शमीम के पास चली गई। शमीम दोनों को लेकर दार्जिलिंग चला गया। जब सिमरन बड़ी होने लगी तो शमीम की बुरी नजर उसपर भी पड़ने लगी। खुशबू ने इसका विरोध किया तो शमीम ने खुशबू की हत्या करवा दी। उसके बाद उसने सिमरन का शारीरिक शोषण किया और उसे देह-व्यापार में धकेल दिया। बताया जाता है कि सिमरन को शमीम अपने घर के बने तहखाने में कैद रखता था और उसे नशीला इंजेक्शन दिया करता था। बाद में पुलिस को शमीम के मोतिहारी स्थित ढ़ाका के घर से सिमरन का शव नग्नावस्था में बरामद हुआ था और गैंगरेप की पुष्टि हुई थी।

 

Check Also

बिहार के बक्सर में होगा बुलेट ट्रेन का स्टॉपेज ,दिल्ली तक का सफर महज छह घंटे में होगा पूरा

बिहार से दिल्ली जाने के लिए भारतीय रेलवे एक बड़ी सौगात लोगों को देने वाली …