बेटों से करवाता रहा दुष्कर्म, महिला को बंधक बना दिखाया बहशीपन

(लुधियाना)। एक व्यक्ति ने महिला को बंधक बनाकर दो महीने तक उसे अपनी हवस का शिकार बनाया। यही नहीं उसके अलावा उसके मामा व तीन बेटों ने भी महिला से दुष्कर्म किया। जब आरोपी उसे बेचने की साजिश रच रहा था तो इस दौरान महिला उनके चंगुल से भाग निकली और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

गांव निवासियों के साथ मिलकर प्रेस कांफ्रेस कर महिला ने बताया कि उसका पति दिल्ली में काम करता है। उसके पति के साथ शंभू शाह व्यक्ति भी काम करता है। शंभू ने लगभग तीन माह पूर्व उसे फोन किया और बताया कि उसके पति की सड़क हादसे में टांग टूट गई है। उसके इलाज के लिए एक लाख रुपये की जरूरत है।
महिला के मुताबिक जब वह रुपये लेकर शंभू सिंह के पास गई तो उसने उसका मोबाइल और सिम तोड़ दिया और उसे जबरन अपने मामा के पास बिहार ले गया। वहां उसने अपने मामा के साथ रुपये बांट लिए और उसे बंधक बना दिया।

लगभग दो महीने तक दोनों उसे अपनी हवस का शिकार बनाते रहे। इसके बाद शंभू शाह उसे और उसकी ढाई साल की बेटी को जबरन मदारपुरा ले आया और अज्ञात जगह पर करीब 20 दिन तक बंदी बनाकर रखा। इस दौरान शंभू और उसके लड़के रूलदु शाह, शामदेव शाह और सुनील शाह उसके साथ दुष्कर्म करते रहे।

उन्होंने उसकी बच्ची को भी पीटा, जिससे बच्ची की बाजू भी टूट गई। इसके बाद शंभू शाह व उसके बेटों ने शंभू के भाई वकील शाह के साथ मिलकर उसे राजस्थान के व्यक्तियों के पास 2.50 लाख रुपये में बेचने का सौदा तय कर लिया था, लेकिन गांववालों की मदद से वह उनके चंगुल से भाग निकली। उसने थाना सिधवां बेट में रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

सरपंच वरिंदर सिंह ढिल्लों ने कहा कि उन्होंने वीरवार 17 नवंबर को आरोपियों को थाना सिंधवा बेट के एएसआइ परमिंदर सिंह के समक्ष पेश किया था, लेकिन सभी आरोपियों को बिना कार्रवाई के छोड़ दिया और कोई जांच नहीं की। एसएचओ कुलवीर सिंह ने कहा कि मामले में बनती कार्रवाई जल्द की जाएगी।

 

Check Also

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में कम हुई, 5 फीसदी वोटिंग !

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग पूरी हो गई है। लेकिन वोटिंग को …