मां-बेटे की हालत देख रो पड़े लोग…जानिए क्यों?

पटना । पूर्णिया जिले के मोहनपुर ओपी थाना क्षेत्र के मेन रोड स्थित डोभा नदी पुल के नीचे एक महिला और एक बच्चे का शव बरामद हुआ है, इस शव को देखकर लोगों की मुंह से आह निकल गई और देखने वालों की रुह कांप गई। इस हृदय विदारक दृश्य को देखकर पुलिस वालों की आंखों में भी आंसू आ गए।
दरअसल शव ऐसी हालत में है कि देखने वाले भी रो पड़ें। लगभग दो साल का बच्चा मां की गोद में लेटा हुआ है और एक सेफ्टीपिन के जरिये दोनों का कपड़ा एक दूसरे से टांका हुआ है। देखकर एेसा लगता है कि मां ने बच्चे को बड़े प्यार से संभालकर गोद में लिटा रखा है।
मिली जानकारी के अनुसार, बुधवार सुबह जब लोग नदी की ओर निकले तो देखा कि डोभा पुल के नीचे नदी के किनारे कोई लेटा हुआ है। पास जाने पर पता चला कि ये महिला का शव है जिसके गोद में बच्चा है। नदी की धार में बहकर शव किनारे पर पहुंचा है।
शव मिलने की खबर सुनकर आसपास के लोग मौके पर जमा हो गए। इसी बीच लोगों ने मोहनपुर ओपी अध्यक्ष राजकिशोर मंडल को इस बात की सूचना दे दी। सूचना मिलते ही राजकिशोर मंडल ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया।
पुलिस ने शव को पहले थाने में रखा ताकि शिनाख्त हो सके। लेकिन काफी इंतजार करने के बाद जब शिनाख्त नहीं हो सकी तो शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल पूर्णिया भेज दिया गया।
लोगों के मुताबिक यह महिला बच्चे को गोद में लिए हुए मंगलवार की शाम को नदी किनारे पगडंडी पर चलती हुई देखी गई थी। और फिर उसी औरत का शव नदी किनारे सुबह मिला। लोगों ने उक्त महिला के बारे में बताया कि वह मधेपुरा के कटचिरा गांव के राजेंद्र यादव की बेटी थी।
महिला ने गांव के युवक से प्रेम विवाह किया था। उसके पति ने बाद में दूसरी शादी कर ली थी। उसके बाद से वह लगातार तनाव में रहती थी। आशंका जताई जा रही है कि इस महिला ने खुदकुशी की हो। इस घटना के संबंध में मोहनपुर ओपी अध्यक्ष राज किशोर मंडल ने बताया कि शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है और इस बारे मे कोई लिखित शिकायत भी नहीं मिली है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Check Also

आरसीपी सिंह का CM नीतीश कुमार पर हमला

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने कहा कि शराबबंदी से बिहार सरकार को बड़ा नुकसान …