मुस्लिम महिलाओं को कट्टरपंथियों की मेहरबानी पर छोड़ना चाहते हैं नीतीश कुमार : सुशील मोदी

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ट्रिपल तलाक पर दिए गए बयान की निंदा करते हुए कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री मुस्लिम महिलाओं को कट्टरपंथियों की दया पर छोड़ देना चाहते हैं. सोमवार को बिहार के मुख्यमंत्री ने ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर बयान देते हुए कहा था कि केंद्र सरकार को इस मुद्दे से अपने आप को दूर रखना चाहिए और इस मुद्दे को मुसलमानों के ऊपर छोड़ देना चाहिए. सुशील मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार चाहते हैं कि मुस्लिम औरतों को आर्थिक मानसिक और सामाजिक रुप से सताने वाली तीन तलाक प्रथा को कट्टरपंथियों की मेहरबानी पर छोड़ दिया जाए. मोदी ने नीतीश कुमार से सवाल किया कि क्या वह शराबबंदी को लोगों के विवेक पर छोड़ सकते हैं? वोट बैंक की राजनीति की वजह से क्या वह कल्याणकारी राज्य के सिद्धांत भी भूल गए हैं?                                                       शराबबंदी पर राजगीर में दिए गए नीतीश के बयान पर जहां नीतीश ने कहा था कि लोग चाहें उनकी चमड़ी उधेड़ दे पर शराबबंदी बिहार में लागू रहेगा पर चुटकी लेते हुए सुशील मोदी ने कहा कि जब बिहार में शराबबंदी सभी की सहमति से लागू हुई है तो फिर कोई क्यों नीतीश कुमार की चमड़ी उधेड़ देगा? सुशील मोदी ने कहा कि हमारा विरोध शराबबंदी पर नहीं बल्कि तालिबानी कानून से है. नीतीश केवल क्रेडिट और सहानुभूति बटोरने के लिए हिंसात्मक जुमले उछाल रहे हैं.

Check Also

बिहार के बक्सर में होगा बुलेट ट्रेन का स्टॉपेज ,दिल्ली तक का सफर महज छह घंटे में होगा पूरा

बिहार से दिल्ली जाने के लिए भारतीय रेलवे एक बड़ी सौगात लोगों को देने वाली …